BJP सांसद निरहुआ ने बताया आजमगढ़ के पिछड़ेपन का कारण, जानिए क्या कहा उन्होंने?

BJP सांसद निरहुआ ने बताया आजमगढ़ के पिछड़ेपन का कारण, जानिए क्या कहा उन्होंने?
फोटो: राजीव कुमार

Azamgarh News:  भोजपुरी फिल्म सुपरस्टार और आजमगढ़ (Azamgarh) से भाजपा (BJP) सांसद दिनेश लाल यादव ‘ निरहुआ’ (Dinesh Lal Yadav) का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर चर्चा का केंद्र बना हुआ है. वायरल वीडियो में सांसद दिनेश लाल यादव कह रहे हैं कि, मनबढ़ लोगों का इलाज उनका घुटना तोड़ देना है और अगर ज्यादा मन बढ़ है तो सीधे ऊपर. भाषण की वीडियो सोशल मीडिया और क्षेत्र में वायरल हो गया है.

अहम बिंदु

दरअसल, दिनेश लाल यादव का यह वीडियो मुबारकपुर विधानसभा में दिए एक कार्यक्रम का है. भाजपा सांसद वहां एक मंच को संबोधित कर रहे थे. वायरल वीडियो के अनुसार, भाजपा सांसद ने इस दौरान कहा कि, आजमगढ़ के पिछड़ेपन का कारण जो मैंने पिछले 3 महीनों में देखा है, वह आजमगढ़ के लोगों का मनबढ़ई करना है. उन्होंने कहा कि, अगर आजमगढ़ को आगे बढ़ना है तो यहां के लोगों को मनबढ़ई खत्म करनी होगी.

भाजपा सांसद वीडियो में आगे कहते नजर आ रहे हैं कि, मनबढ़ई खत्म कैसे होगी, इसको खत्म करने का सिर्फ एक ही उपाय है. वह है जेल और घुटना तोड़ना. बता दें कि वीडियो को लेकर विरोध हो रहा है. इस मामले के सामने आने के बाद रिहाई मंच के महासचिव राजीव यादव ने भी इसका विरोध किया लहै और भाजपा सांसद के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है.

विरोध में उतरा रिहाई मंच

रिहाई मंच के राजीव यादव का कहना है कि, भाजपा सांसद कहते हैं कि आजमगढ़ के लोग मनबढ़ हैं, उनको ऊपर पहुंचा देंगे. उनकी मनबढ़ई खत्म करने के लिए उनको जेल में डाल देंगे. उनको घुटनो पर चोट मार देंगे. हम एसएसपी से मांग करते हैं कि फौरन भाजपा सांसद दिनेश लाल यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो और कार्रवाई की जाए. राजीव यादव ने आगे कहा कि, भाजपा सांसद ने आजमगढ़ की पहचान पर हमला किया है और उनका यह बयान आजमगढ़ के लोगों को सहन नहीं है.

बता दें कि भाजपा सासंद का यह वीडियो क्षेत्र और सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. अब देखना यह होगा कि भाजपा सांसद दिनेश लाल यादव अपने ऊपर लगे इन आरोपों पर क्या कहते हैं.

BJP सांसद निरहुआ ने बताया आजमगढ़ के पिछड़ेपन का कारण, जानिए क्या कहा उन्होंने?
आजमगढ़: पांच टुकड़ों में मिली थी युवती की सर कटी लाश, प्रेमी ही निकला कातिल, गिरफ्तार

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in