UP तक बैठक: 2022 में कौन होगा BJP का CM चेहरा? जानिए केशव प्रसाद मौर्य का जवाब

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 से पहले संगम नगरी यानी प्रयागराज में हमने आपके लिए सजाया एक खास मंच- यूपी तक बैठक. इस बैठक में हमने आपको आगामी चुनाव से जुड़े कई अहम चेहरों से रूबरू कराया. इस कार्यक्रम में उन तमाम मुद्दों पर बातचीत हुई, जो सियासी वार-पलटवार के बीच कहीं खोकर रह जाते हैं.

केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, ”अखिलेश यादव से मेरा सवाल है कि 2014 में नरेंद्र मोदी सरकार बनने से पहले वह मंदिर कब गए थे. तुष्टिकरण की राजनीति को जनता ने तमाचा लगा दिया.”

इस सवाल पर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि 2022 के चुनाव के बाद चुने गए विधायक केंद्रीय पर्यवेक्षक की टीम के साथ मिलकर विधायक दल का नेता चुनेंगे.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

जातिगत जनगणना के मुद्दे पर केशव प्रसाद मौर्य बोले, ”व्यक्तिगत तौर पर मैं इसके खिलाफ नहीं हूं, न ही मेरी पार्टी इसके खिलाफ है.”

गड्ढा मुक्त करने का वादा था, सरकार के करीब साढ़े 4 साल बाद भी यह अभियान चलाना पड़ रहा है, इससे जुड़े सवाल पर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि यह सतत अभियान है. उन्होंने कहा, ”अभी तक हम एसपी-बीएसपी के पाप के गड्ढे भरने के काम कर रहे थे. यह हर साल चलने वाला अभियान है. एसपी-बीएसपी-कांग्रेस को इसकी चिंता नहीं थी. हम हर साल गड्ढा मुक्त सड़क के लिए अभियान चलाते हैं.”

ADVERTISEMENT

क्या कोरोना की वजह से लोगों में नाराजगी है? इस पर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कोरोना में यूपी ने कैसे लड़ाई लड़ी, इससे हम सभी परिचित हैं, यह दुखद है कि कई जानें गईं लेकिन दुनिया के अन्य देशों के हिसाब से देखें तो भारत और यूपी में कोरोना से मजबूत लड़ाई लड़ी गई.

यूपी तक बैठक में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, ”केंद्र और प्रदेश सरकार के काम पर मुझे पूरा भरोसा है कि 2022 में हमारी विजय यात्रा जारी रहेगी. हम 300 से ज्यादा सीटें जीतेंगे.”

ADVERTISEMENT

यूपी चुनाव 2022 को लेकर एसपी चीफ अखिलेश यादव के एक बयान पर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, ”अखिलेश यादव को मुंगेरीलाल के हसीन सपने आ रहे हैं. अखिलेश यादव सपने में 400 सीटें जीत सकते हैं, लेकिन 2022 में नतीजे आएंगे तो उनका सपना चकनाचूर हो जाएगा.”

सीएम न बनाए जाने से जुड़े सवाल पर यूपी तक बैठक में उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, ”मेरे मन में कोई कसक नहीं. पार्टी ने मुझे सम्मान दिया, बड़ी-बड़ी जिम्मेदारियां दीं. मुझे यूपी का उपमुख्यमंत्री बनाया गया.”

यूपी तक बैठक में AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”उत्तर प्रदेश में मुझे कांग्रेस कहीं नजर नहीं आती.”

यूपी तक बैठक में AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”चुनाव लड़ना मेरा अधिकार है, वोट देना न देना जनता का अधिकार है.”

‘अब्बा जान’, ‘चाचा जान’ बयानबाजी पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”योगी ने जब अब्बा जान कहा तो सभी सेक्युलर लोगों ने अपने पिता के साथ तस्वीर डाली, लेकिन दूसरे ने चाचा जान कहा तो उस पर कुछ नहीं. मैं पॉलिटिकल सेक्युलरिज्म के खिलाफ हूं, संविधान की धर्मनिरपेक्षता के साथ हूं.”

यूपी तक बैठक में AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”उत्तर प्रदेश के मुसलमानों का कौन नेता है? उनका सशक्तिकरण कहां हुआ है. इसलिए वो AIMIM की तरफ देख रहे हैं.”

यूपी तक बैठक में AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”पिछले 4-5 सालों से बीजेपी, एसपी, बीएसपी ऐसा बर्ताव कर रही हैं, जैसे मैं इन्हें लूटने आया हूं. आज सभी AIMIM का विरोध कर रहे हैं. हम योगी सरकार को कहते हैं तो केस होता है. एसपी को कहते हैं कि बीएसपी के साथ महागठबंधन कर आपने मुस्लिम वोट लिया फिर भी नहीं जीत पाए.”

यूपी तक बैठक में AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”फिरोजाबाद में योगी की सरकार दिखती ही नहीं है, कोविड संकट में योगी सरकार दिखती नहीं है.”

‘अब्बा जान’, ‘चाचा जान’ बयानबाजी पर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ”इससे साफ जाहिर हो रहा है कि इनको मुसलमानों से कितनी नफरत है.”

बीएसपी नेता एमएच खान ने कहा, ”पेट्रोल-डीजल के दाम जब आप बढ़ाओगे तो महंगाई तो बढ़ेगी ही, चुनाव इस पर होगा कि आपने महंगाई इतनी बढ़ा दी कि आज हम दो रोटी खाने को तरस गए.”

एनसीआरबी के आंकड़ों पर बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी बोले, ”किसी भी आंकड़े को प्रति व्यक्ति के आधार पर ही देखा जाएगा.”

एसपी नेता संदीप यादव ने कहा, ”किस किसान की आय दोगुनी हुई है, किस नौजवान को रोजगार मिल गया. बीजेपी गाय-गोबर, अब्बा जान से गुमराह करने की कोशिश में है.”

बीजेपी को निशाने पर लेते हुए कांग्रेस प्रवक्ता सुरेंद्र राजपूत ने कहा, ”अब्बा जान की बात ये इसलिए करते हैं क्योंकि इनके पास कहने को कुछ नहीं है.”

यूपी तक बैठक में बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, ”हमने जो कहा था, वो करके दिखाया था. हम 2017 से ज्यादा सीटें जीतेंगे.”

असदुद्दीन ओवैसी की रैलियों में भीड़ से जुड़े सवाल पर एसपी नेता मनोज पांडेय ने कहा, ”मजमे में लगने वाली भीड़ का वोट से आकलन नहीं किया जा सकता.”

एसपी नेता मनोज पांडेय ने कहा, ”उत्तर प्रदेश में आज बेरोजगारी बड़ा मुद्दा है. नौजवान आज आत्महत्या कर रहा है. नौजवान और किसान अखिलेश यादव की तरफ आशावादी नजरों से देख रहा है.”

प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन से जुड़े सवाल पर समाजवादी पार्टी नेता मनोज पांडेय ने कहा, ”जिस वर्ग के साथ अन्याय हुआ, समाजवादी पार्टी उसके साथ खड़ी हुई.”

यूपी तक बैठक में समाजवादी पार्टी के नेता धर्मराज सिंह पटेल ने गठबंधन के सवाल पर कहा, ”हमारी पार्टी सक्षम है. किसान-व्यापारी हमारे साथ जुड़ गया है. जो लोग गठबंधन करना चाहेंगे, उनको उचित सम्मान दिया जाएगा.”

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सिद्धार्थ नाथ सिंह का दावा, ”60 फीसदी पोलिंग हमारी होगी. 60 फीसदी वोट बीजेपी को मिलेगा, बाकी 40 फीसदी में सभी रहेंगे”

यूपी तक बैठक में सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, ”राकेश टिकैत राजनीतिक दलों के साथ मिले हैं, उनके आंदोलन का कोई असर नहीं होगा.”

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने ‘अब्बा जान’ के संदर्भ में कहा कि सीएम ने अखिलेश यादव को कहा था कि वह अपने ‘अब्बा जान’ से पूछ लें, ”इस पर वह नाराज हो गए. मैंने कहा कि उर्दू का अच्छा शब्द है. इस पर किसी को क्या आपत्ति होनी चाहिए.”

यूपी सरकार में मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, ”सतीश चंद्र मिश्रा ने बीजेपी में शामिल होने की कोशिश की थी, हमने उन्हें लिया नहीं इसलिए वह नाराज हैं.”

यूपी तक बैठक में सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि चुनाव के बाद सरकार बनाने के लिए जरूरत पड़ने पर भी उनकी पार्टी एसपी-बीजेपी के साथ नहीं जाएगी.

बीएसपी के मंच पर दिख रहा सतीश चंद्र मिश्रा का परिवार, इसके क्या मायने हैं? इस पर मिश्रा ने कहा, ”ये बात सही है कि मेरी पत्नी और बेटा पार्टी के कार्यक्रमों में दिख रहे हैं, लेकिन उनका पार्टी में कोई पद नहीं है और न ही वे चुनाव लड़ेंगे.”

एनसीपी चीफ शरद पवार के जमींदार वाले बयान पर सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ”अब कांग्रेस के पास न तो हवेली बची है, न ही जमीन है. जिस पार्टी ने संविधान देने वाले बाबा साहब को धोखा दिया उसका ये हश्र तो होना ही था.”

Exclusive: यूपी के जमींदार की कहानी सुनाकर शरद पवार ने कसा कांग्रेस पर तंज

क्या बीजेपी की बी टीम है बीएसपी? इस पर सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ”पहले हमें कांग्रेस की बी टीम कहा गया. पिछले दो महीने में हमने सारे सम्मेलनों में बीजेपी पर निशाना साधा गया.”

यूपी तक बैठक में बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ”बीजेपी और एसपी एक ही जैसी हैं. दंगा-लूट-मार इनके शासन की स्टाइल है. ये पार्टियां खरीद-फरोख्त करती हैं. हमारे दलित नेता को राज्यसभा में हराने के लिए इन्होंने यही किया.”

यूपी तक बैठक में बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ”हमारी पार्टी में कोई नेता नहीं होता, वर्कर होते हैं. मैं भी वर्कर हूं.”

यूपी तक बैठक में बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ”हम किसी के साथ गठबंधन नहीं करने जा रहे. हम इस बार अपने दम पर पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएंगे. हमारा गठबंधन सर्वसमाज से होगा.”

सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ”हमने अयोध्या जाकर बीजेपी की पोल खोल दी. हमने जब कहा कि मंदिर नहीं बन रहा, तो जल्दी-जल्दी में सीमेंट डालकर नींव बनाने की बात कर रहे हैं. हम लोग समाज को इकट्ठा कर रहे हैं.”

यूपी तक बैठक में सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा, ”आज ब्राह्मण समाज का उत्पीड़न हो रहा है उत्तर प्रदेश में, जितने एनकाउंटर हो रहे हैं, 10 में से 8 ब्राह्मण समाज के हो रहे हैं.”

बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि एसपी और बीजेपी यूपी में बीएसपी की नकल करके उसके पीछे-पीछे चल रही हैं.

‘अब्बा जान’ और ‘चाचा जान’ पर सियासी घमासान के बीच ओमप्रकाश राजभर ने कहा, ”महंगाई जान, बेरोजगारी जान, शिक्षा जान पर कोई चर्चा नहीं है. जरा महंगाई जान पर डिबेट कर ले कोई.”

यूपी तक बैठक में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा, ”2022 में बीजेपी को सत्ता से बेदखल करके दिखाऊंगा. आप राजभर का खेल देखते जाइए.”

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा, ”2 साल सत्ता में रहा. 2016 में बीजेपी से समझौता हुआ. कोई साबित कर दे कि बीजेपी से एक पैसा भी लिया हो.”

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर ओमप्रकाश राजभर ने कहा, “योगी जी में एक खासियत है, मेहनती हैं, ईमानदार हैं लेकिन उनके इर्द-गिर्द जितने भी अधिकारी हैं उनमें से कुछ अधिकारी ऐसे हैं जो उनको ब्लैकमेल कर रहे हैं”

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा, ”उत्तर प्रदेश में प्रबुद्ध सम्मेलन हो रहे हैं, जो अबुद्ध लोग हैं, आज भी जो अशिक्षित लोग हैं, उनकी सुध कौन लेगा, ओमप्रकाश राजभर उनकी बात करता है, जिनके यहां अभी भी शिक्षा नहीं पहुंची है.”

यूपी तक बैठक में AAP नेता संजय सिंह ने कहा, ”2019 में बीजेपी को नरेंद्र मोदी के नाम पर बड़ा वोट मिला. अब जनता के सामने महंगाई की कहानी है. जनता के सामने कोरोना संकट का भी दृश्य है. 10 महीने से किसान सड़क पर हैं, उनको मवाली कहा जाता है. राकेश टिकैत को रोना तक पड़ा.”

AAP नेता संजय सिंह ने कहा, ”उत्तर प्रदेश के अंदर एक निरंकुश सत्ता है. आप इनके खिलाफ बोल तक नहीं सकते. बोलने पर मुकदमे कर दिए जाते हैं, बुल्डोजर से घर गिरा दिए जाते हैं.”

यूपी तक बैठक में AAP नेता संजय सिंह ने कहा, ”2017 के चुनाव में देश के प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री, बीजेपी का एक-एक कार्यकर्ता गांव-गांव में जाकर कहता था, ‘श्मशान होना चाहिए कि नहीं होना चाहिए’ और इस मनहूस पार्टी ने गांव-गांव में श्मशान बना दिया. हमें श्मशान नहीं चाहिए. हमें स्कूल चाहिए, अस्पताल चाहिए, उद्योग चाहिए, रोजगार चाहिए, किसान की फसल का दाम चाहिए.”

यूपी तक बैठक में AAP नेता संजय सिंह ने कहा, ”राम मंदिर के दर्शन करके नफरत फैलाने का काम नहीं करना चाहिए.”

यूपी तक बैठक में AAP नेता संजय सिंह ने कहा, ”(अरविंद) केजरीवाल जी ने दिल्ली की जनता से 70 वादे किए और 71 पूरे किए. उनके नाम पर हम चुनाव लड़ रहे हैं.”

AAP नेता संजय सिंह ने कहा, ”पिछले एक-डेढ़ साल में यूपी में अगर किसी ने विपक्ष की भूमिका निभाई है तो आम आदमी पार्टी ने निभाई है. हमने भ्रष्टाचारों को उजागर किया है. आम आदमी पार्टी वास्तव में सत्ता की नाक में नकेल डालने का काम कर रही है.”

यूपी तक बैठक में अपना दल (एस) की नेता और केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने ‘चिट्ठी न कोई संदेश’ गाना गाया.

एनसीआरबी के आंकड़ों और महिला उत्पीड़न के मुद्दे पर अनुप्रिया पटेल ने कहा, ”महिलाओं के प्रति अत्याचार तब तक नहीं रुकेगा, जब तक समाज की सोच नहीं बदलेगी. महिला अधिकारों की जहां तक बात है, तो हमें अपने घरों से शुरू करना चाहिए.”

केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा, ”जब आपके पास आबादी के आंकड़े आएंगे तभी आप किसी निष्कर्ष पर पहुंच पाएंगे कि किसे आरक्षण का लाभ ज्यादा मिला, किसे कम.”

यूपी तक बैठक में अपना दल (एस) की नेता और केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा, ”जातिगत जनगणना देश के लिए बहुत जरूरी है. देश में पिछड़े वर्ग की बहुत सी जातियां आज अदृश्य हैं, उनकी कोई पहचान नहीं है. भारत जातियों का देश है, जातियों के वजूद को आप नकार नहीं सकते.”

यूपी तक बैठक में अपना दल (एस) की नेता और केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा, ”वेबसीरीज में जैसा दिखाने की कोशिश की गई, वैसा मेरा मिर्जापुर नहीं है.”

क्या मां अनुप्रिया के साथ आएंगी? इस सवाल पर अनुप्रिया पटेल ने कहा, ”मैं मां को साथ लाने के लिए कोशिश कर रही हूं. मैं पॉजिटिव एनर्जी के साथ इस दिशा में कोशिश कर रही हूं.”

क्या पिता नहीं चाहते थे कि पॉलिटिक्स में अनुप्रिया पटेल आएं? इस पर अपना दल (एस) की नेता और केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा, ”पिता महिलाओं के राजनीति में आने के खिलाफ नहीं थे. हम उनकी बेटियां पढ़ाई लिखाई में व्यस्त थीं. पिताजी को लगता था कि पार्टी से ही कोई आएगा राजनीति में. मेरी छोटी बहन को राजनीति में कोई रुचि नहीं है. राजनीति से अपने लिए खुशी के पल निकालती हूं, बहन के साथ खुशी के पल ढूंढ ही लेती हूं.”

‘बैलट के साथ बुलेट’ का जिक्र करते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि ईवीएम से चोरी रोकने का इंतजाम भी उन्होंने कर लिया है.

यूपी तक बैठक में बीजेपी को लेकर बोले चंद्रशेखर आजाद- ”वो लोग धर्म की पिच पर लाना चाहते हैं, लेकिन हम इस पर नहीं आएंगे. हमें पता है कि इस पिच पर जो भी आएगा, वो बीजेपी से मात खाएगा.”

चंद्रशेखर आजाद ने कहा, ”हमारा गठबंधन जनता के साथ है, गठबंधन तो एसपी-बीएसपी का हुआ था. एसपी गई, बीएसपी गई क्योंकि जनता ने पसंद नहीं किया. बीजेपी भी जाएगी. हमारा प्रयास होगा नौजवानों के रोजगार के मुद्दों को मुख्यधारा में लाना. हम हिंदू-मुस्लिम मुद्दे पर जाएंगे ही नहीं.”

यूपी तक बैठक में आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा, ”प्रियंका गांधी हमारे दुख में आईं, हमने भी उनको बहन माना, जब मुश्किल में बहनें होंगी तो हम साथ देंगे. यूपी की सारी बहनों से हम यही कहना चाहते हैं.”

क्या खुद पर NSA लगाने वालों से बदला लेंगे चंद्रशेखर? इस पर आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा, ”मैं बदलाव की बात करता हूं, बदले की नहीं. हम स्मार्ट सिटी में बैठे हैं. प्रयागराज में गड्ढे हैं. एक्सप्रेसवे पर दरारें पड़ गईं. मैं शुक्रिया अदा करता हूं सरकार का कि उन्होंने एनएसए लगाया. हम सरकार से बदला नहीं लेंगे, सुधार करेंगे. एक तरफ आरएसएस की विचारधारा है, एक तरफ बाबा साहब की. हम विचारधारा की लड़ाई लड़ रहे हैं.”

आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा, ”जाति व्यवस्था बहुत बुरी चीज है, मैं इसका बहिष्कार करता हूं.”

यूपी तक बैठक में आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने कहा, ”मायावती मेरी बुआजी हैं. बुआ-भतीजे में नाराजगी कैसी. अब सतीश चंद्र मिश्रा बीएसपी के मालिक हो गए हैं. बहुजन विचारधारा थी कभी, आज पता नहीं किन मुद्दों पर बात होती है.”

मुकेश सहनी ने कहा, ”आज की तारीख में अखिलेश (यादव) कमजोर, मायावती शांत बैठी हैं, घर में हैं, प्रियंका गांधी को मैदान में उतरना चाहिए.”

यूपी तक बैठक में वीआईपी अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा, ”निषाद का बेटा ही मुझे हीरो मानता है, उन्हीं के लिए मैं काम करता हूं. हम जिस मुकाम पर हैं, उसमें निषाद समाज का ही योगदान है.”

मुकेश सहनी ने कहा, ”चार पार्टी के साथ हमारा गठबंधन बिल्कुल भी नहीं होगा, जिसमें बीजेपी, एसपी, बीएसपी और कांग्रेस हैं. अगर केंद्र में (निषादों के लिए) आरक्षण लागू होता है तो निश्चित तौर पर हम बीजेपी की हर शर्त मानने को तैयार हैं.”

यूपी तक बैठक में मुकेश सहनी ने कहा, ”जो लोग हमारे वोट को नजरअंदाज करते हैं, वो यूपी में कम से कम 75 सीट हारेंगे.”

वीआईपी अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा, ”हम लोग जातिगत जनगणना की बात कर रहे हैं. एक बार जातिगत जनगणना आ जाए तो स्थिति साफ हो जाएगी कि हमारी वोटबैंक क्या है.”

10 में से योगी आदित्यनाथ को कितने नंबर? इस सवाल पर प्रमोद तिवारी ने कहा, ”योगी इस काबिल नहीं कि उनको नंबर दूं.”

कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा, ”मुसीबत में योगी को अब्बा जान याद आ रहे हैं. अब्बा जान कहना अपनी असफलताओं से ध्यान हटाना है.”

कांग्रेस को लेकर एनसीपी चीफ शरद पवार के जमींदार वाले बयान पर प्रमोद तिवारी ने कहा, ”शरद पवार का बयान अव्यावहारिक था, इसे मैं स्वीकार नहीं करता. शरद पवार जी यह भी कहते हैं कि भारत में कांग्रेस के बिना बीजेपी का विकल्प बन ही नहीं सकता.”

Exclusive: यूपी के जमींदार की कहानी सुनाकर शरद पवार ने कसा कांग्रेस पर तंज

प्रमोद तिवारी ने कहा, ”आज गांव में छुट्टा जानवरों की सबसे बड़ी समस्या है. 2 करोड़ नौजवान यहां बेरोजगार हैं. हमने कुपोषण में टॉप किया है. किसानों से बात करने की फुर्सत नहीं है इनको. उत्तर प्रदेश में पूरे भारत में सबसे ज्यादा महंगी बिजली है. बीजेपी से ज्यादा झूठ बोलने वाली पार्टी कोई नहीं है.”

कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा, ”हमारा किसी भी पार्टी से गठबंधन का कोई इरादा नहीं है.”

प्रमोद तिवारी ने कहा, ”कांग्रेस में परंपरा ही नहीं है यूपी में मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित करने की. शीला दीक्षित का मामला अपवाद था. हम प्रियंका (गांधी) जी के नाम पर वोट मांगेंगे. विधानमंडल दल का नेता मुख्यमंत्री बनेगा.”

यूपी तक बैठक में कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा, ”2022 के चुनाव के लिए जनता ने मन बना लिया है कि बीजेपी का सफाया हो जाएगा. बीजेपी को उसके पापों की सजा मिलेगी.”

क्या सचमुच ब्राह्मणों की नाराजगी है योगी सरकार से? इस सवाल पर रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, ”पार्टी की नीति साफ है- सबका साथ, सबका विकास. योगी आदित्यनाथ-नरेंद्र मोदी को काम पर घेरा नहीं जा सकता. ऐसे में भ्रम फैलाया जा रहा है. ब्राह्मण बुद्धिमान है, वो सब जानता है. कोरोना-बाढ़ संकट में बहनजी (मायावती) नजर नहीं आईं, आज उनको ब्राह्मण याद आ गए.”

ब्राह्मण चेहरा होकर भी मोदी कैबिनेट में जगह क्यों नहीं मिली? इस सवाल पर रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, ”बीजेपी की सबसे बड़ी खूबी यही है कि चेहरा देखकर मौका नहीं मिलता. नए लोगों को भी मौका दिया जाता है. पार्टी ने जो मुझे दिया मैं खुश हूं. मेरी उम्र 70 वर्ष से अधिक है. मुझे पार्टी से काफी सम्मान मिला.”

यूपी तक बैठक में रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, ”मैं कांग्रेस में बहुत लंबे समय तक रही हूं, मैंने कार्यशैली देखी है. नेता उसमें अच्छे हैं. वर्कर गायब हैं.”

रीता बहुगुणा जोशी ने दावा किया, ”हम प्रयागराज में सबका सूपड़ा साफ कर देंगे. सभी सीटें जीतेंगे.”

यूपी तक बैठक में रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, ”प्रयागराज में कोविड का बेस्ट मैनेजमेंट हुआ. अंतिम संस्कार की अपनी परंपराएं हैं. कुछ लोग दफन करते हैं. जिनको जिम्मेदारी मिली थी उनसे कुछ गलतियां हुईं.”

रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, ”प्रयागराज में एक साल के अंदर एक दर्जन से अधिक फ्लाइओवर बने. 4 हजार करोड़ की योजनाएं आईं. यूनेस्को ने कुंभ की तारीफ की. मैं बचपन से कुंभ देख रही हूं, ऐसा कुंभ नहीं देखा.”

बीजेपी सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, ”2014-17 से तक समाजवादी पार्टी सरकार के दौरान यूपी में जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों तक नहीं पहुंचा.”

यूपी तक बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा,

  • ”1 करोड़ 38 लाख लोगों को सौभाग्य योजना के तहत विद्युत के मुफ्त कनेक्शन दिए.”

  • ”1 करोड़ 45 लाख से अधिक लोगों को उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस के मुफ्त कनेक्शन दिए.”

  • ”5 एक्सप्रेसवे पर हम काम कर रहे हैं. इंटर स्टेट कनेक्टिविटी बेहतर हुई है.”

  • ”बिजली का लाभ बिना भेदभाव के सबको मिल रहा है.”

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा,

  • ”कोरोना जैसी महामारी पर काबू करने में प्रदेश सरकार को भारी सफलता मिली है.”

  • ”कोरोना काल में 2020 में आठ महीने और वर्तमान में मई से नवंबर तक 15 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन देने का काम केंद्र और राज्य सरकार कर रही हैं.”

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा,

  • ”44 जन-कल्याणकारी/लोक-कल्याणकारी योजनाओं में यूपी देश में नंबर 1 पर है.”

  • ”प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण-शहरी मिलाकर) 44 लाख लोगों को एक-एक आवास हम दे चुके हैं.”

  • ”2 करोड़ 61 लाख लोगों को व्यक्तिगत शौचालय उपलब्ध करवाया गया है.”

यूपी तक बैठक में सीएम योगी ने कहा, ”1 करोड़ 61 लाख से ज्यादा नौजवानों को रोजगार के विभिन्न कार्यक्रमों के साथ जोड़ा गया. 60 लाख से ज्यादा उद्यमियों, हस्तशिलपियों को स्वत रोजगार के साथ जोड़ा गया. 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक का निवेश यूपी में हुआ है. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि हम बेहतर कानून व्यवस्था देने में सफल हुए. आज प्रदेश में कानून का राज है.”

यूपी तक बैठक में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ”2017 से पहले यूपी देश की छठी बड़ी अर्थव्यवस्था था लेकिन मोदी जी के मार्गदर्शन में हम आज देश की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुके हैं. हमने 4.50 लाख नौजवानों को सरकारी नौकरी दी.”

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ”2019 के प्रयागराज कुंभ ने देश-दुनिया में यूपी की छवि सुधारने और दुनिया को यूपी के अंदर आकर्षित करने का काम किया. 2017 से पहले प्रयागराज कहां था और 2019 के बाद कहां है. पूरे यूपी के विकास को इस के साथ जोड़कर देख सकते हैं.”

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT