रामपुर उपचुनाव: अब्दुल्ला बोले- बदकिस्मती को लेकर कहां जाऊं? आजम खान को लेकर कही बड़ी बात

रामपुर उपचुनाव: अब्दुल्ला बोले- बदकिस्मती को लेकर कहां जाऊं? आजम खान को लेकर कही बड़ी बात
फोटो: जगत गौतम

Rampur News: समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान (Azam Khan) की विधानसभा सदस्य रद्द होने के बाद रिक्त हुई रामपुर विधानसभा सीट (Rampur By Election) पर उपचुनाव होने हैं. रामपुर विधानसभा उपचुनाव जीतने के लिए भाजपा (BJP) और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) अपनी पूरी ताकत लगा रही है. इस बीच आजम खान के बेटे और स्वार से विधायक अब्दुल्ला आजम (Abdullah Azam Khan) ने यूपीतक से खास बातचीत की है.

रामपुर आजम खान का गढ़ नहीं है

यूपीतक से बातचीत में सपा विधायक अब्दुल्ला आजम ने कहा कि, रामपुर आजम खान का गढ़ नहीं है बल्कि घर है. जब आजम खान जेल में थे तो रामपुर वालों ने उन्हें 1 लाख 32 हजार वोट से विधायक बनाया था. रामपुर वासियों का आजम खान के ऊपर यह भरोसा पिछले 35 से 40 सालों से ऐसे ही कामय है.

एक साहब करा चुके हैं 6 चुनाव

अब्दुल्ला आजम खान ने कहा कि, एक साहब इस मंडल में 6 बार चुनाव करा चुके हैं. वह जिस डेपुटेशन पर हैं वह भी कानून की नजर में गैरकानूनी है. लेकिन उनको किसने हटा दिया, किस ने सुन ली हमारी. डेपुटेशन का कानून पढ़े और जाने की 5 साल से अधिक नॉर्थ ईस्ट कैंडर के आईएएस अधिकारी रह सकते हैं या नहीं.

हर दरवाजे पर इंसाफ मांगा लेकिन नहीं मिला

डेट ऑफ बर्थ विवाद को लेकर अब्दुल्ला आजम खान ने कहा कि, मैंने कभी कोर्ट के फैसले पर उंगली नहीं उठाई. मेरे पिता को बिना वजह 3 साल तक सजा दी गई मैंने तब भी कुछ नहीं कहा. लेकिन आज मैं इतना ही कहूंगा कि मैं हर दरवाजे पर इंसाफ के लिए गया लेकिन आज तक मुझें इंसाफ नहीं मिला. मुझें पैदा करने वाली मेरी मां तक के दस्तावेज मेरी पैदाइश साबित नहीं कर सके. आगे मैं कितना साबित कर सकूंगा ये अल्लाह जानता है.

अहम बिंदु

सपा विधायक ने कहा कि, मेरे मन में इनता सब्र है कि ना मैंने कल झूठ बोला था और ना ही आज झूठ बोला है और ना ही कभी आगे बोलूंगा. मैंने जो भी बताया था सही ही बताया था और आज भी सही बता रहा हूं. मगर मैं अपनी बदकिस्मतीको लेकर कहां लेकर जाऊं. मैं तो सच को सच साबित नहीं कर पा रहा. उन्होंने कहा कि, देखिए एक बात साफ है. या तो मैं अपना सच साबित खुद नहीं कर पा रहा हूं या मुझें सच साबित करने नहीं दिया जा रहा है.

अब्दुल्ला आजम ने कहा कि, मैं सिर्फ इतना ही कहूंगा कि मैं फैसले पर सवाल नहीं उठाऊंगा. मैं तो सिर्फ यहीं कह सकता हूं कि मेरे कम नसीबी है कि मैं समझा नहीं पा रहा. इस इल्जाम के लिए मैंने 2 साल जेल काटी और पिछली सदस्यता खोई और आज भी उसी इल्जाम को साथ लिए अपने साथ घूम रहा हूं.

रामपुर उपचुनाव: अब्दुल्ला बोले- बदकिस्मती को लेकर कहां जाऊं? आजम खान को लेकर कही बड़ी बात
रामपुर उपचुनाव: आजम खान बोले- 'EC भाजपा की जीत घोषित करे', पुलिस पर लगाए कई गंभीर आरोप

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in