योगी सरकार की बुल्डोजर कार्रवाई पर मायावती का हमला, बोलीं- 'निर्दोषों के घर ढहाए जा रहे'

Mayawati News | UP News Hindi | CM Yogi
योगी सरकार की बुल्डोजर कार्रवाई पर मायावती का हमला, बोलीं- 'निर्दोषों के घर ढहाए जा रहे'
बीएसपी चीफ मायावती. फोटो: पंकज नांगिया/ मेल टुडे

उत्तर प्रदेश (UP) में जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा के आरोपियों के घर बुल्डोजर से हो रही कार्रवाई पर बहुजन समाज पार्टी (BSP) की मुखिया मायावती ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. सोमवार को सिलसिलेवार तरीके से किए गए ट्वीट में मायावती ने यूपी को योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा. साथ ही मायावती ने आरोप लगाते हुए कहा कि 'सरकार द्वारा आपाधापी में की जा रही बुल्डोजर विध्वंसक कार्रवाईयों में न केवल बेगुनाह परिवार पिस रहे हैं, बल्कि निर्दोषों के घर भी ढह दिए जा रहे हैं.'

सोमवार को ट्वीट पर बीएसपी सुप्रीमो ने कहा,

UP Latest News Hindi: "यूपी सरकार एक समुदाय विशेष को टारगेट करके बुलडोजर विध्वंस व अन्य द्वेषपूर्ण आक्रामक कार्रवाई कर विरोध को कुचलने एवं भय व आतंक का जो माहौल बना रही है यह अनुचित व अन्यायपूर्ण. घरों को ध्वस्त करके पूरे परिवार को टारगेट करने की दोषपूर्ण कार्रवाई का कोर्ट जरूर संज्ञान ले."

मायावती

फोटो: मायावती/ ट्विटर
उन्होंने कहा, "जबकि समस्या की मूल जड़ नूपुर शर्मा व नवीन जिन्दल हैं, जिनके कारण देश का मान-सम्मान प्रभावित हुआ व हिंसा भड़की, उनके विरुद्ध कार्रवाई नहीं करके सरकार द्वारा कानून के राज का उपहास क्यों? दोनों आरोपियों को अभी तक जेल नहीं भेजना घोर पक्षपात व दुर्भाग्यपूर्ण। तत्काल गिरफ्तारी जरूरी."
अहम बिंदु

मायावती ने आगे कहा, "सरकार द्वारा नियम-कानून को ताक पर रखकर आपाधापी में किए जा रहे बुलडोजर विध्वंसक कार्रवाईयों में न केवल बेगुनाह परिवार पिस रहे हैं बल्कि निर्दोषों के घर भी ढह दिए जा रहे हैं. इसी क्रम में पीएम आवास योजना के मकान को भी ध्वस्त कर देना काफी चर्चा में रहा, ऐसी ज्यादती क्यों?"

प्रयागराज हिंसा के 'मास्टरमाइंड' का ध्वस्त हुआ मकान

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में प्रयागराज जिला प्रशासन और पुलिस ने शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद शहर के अटाला और करेली क्षेत्र में पुलिस पर पथराव की घटना के कथित ‘मास्टरमाइंड’ (मुख्य षड्यंत्रकर्ता) मोहम्मद जावेद उर्फ जावेद पंप का करेली में अवैध रूप से निर्मित दो मंजिला बंगला रविवार को बुलडोजर से ध्वस्त कर दिया.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अजय कुमार ने बताया कि ध्वस्तीकरण के दौरान पुलिस ने मकान की तलाशी भी ली, जिसमें कई आपत्तिजनक सामान भी मिले हैं. उन्होंने बताया कि इनमें अवैध असलहे और आपत्तिजनक पोस्टर आदि शामिल हैं जिन्हें कब्जे में ले लिया गया है और उन्हें तफ्तीश में शामिल किया जाएगा.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि तलाशी के दौरान कई साहित्य, किताबें भी मिली हैं जिनकी पड़ताल की जाएगी. उन्होंने बताया कि ध्वस्त किए गए मकान की अनुमानित कीमत पांच करोड़ रुपये है जिसे नियम के अनुसार ध्वस्त किया गया. उन्होंने बताया कि अभी तक जितने भी झंडे, पोस्टर, बैनर और कागजात मिले हैं, उनकी गहराई से पड़ताल की जाएगी और पता लगाया जाएगा कि इसके पीछे मंशा क्या थी.

एसएसपी ने बताया कि जावेद का मकान पीडीए से नक्शा पास कराए बगैर बनाया गया था जिसके लिए उसे 10 मई, 2022 को नोटिस जारी किया गया था और उसे अपना पक्ष रखने के लिए 24 मई, 2022 की तिथि आबंटित की गई थी. उन्होंने बताया कि निर्धारित तिथि पर जावेद या फिर उनका वकील नहीं आया और ना ही कोई अभिलेख प्रस्तुत किया गया, इसलिए 25 मई को ध्वस्तीकरण आदेश पारित किया गया.

बीएसपी चीफ मायावती.
प्रयागराज: आफरीन का घर तोड़े जाने पर ओवैसी बोले- 'क्या UP के सीएम चीफ जस्टिस बन चुके हैं?'

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in