मैनपुरी में अखिलेश का चक्रव्यूह! शिवपाल, धर्मेंद्र, तेज प्रताप, आदित्य सबको दी जिम्मेदारी

मैनपुरी में अखिलेश का चक्रव्यूह! शिवपाल, धर्मेंद्र, तेज प्रताप, आदित्य सबको दी जिम्मेदारी
फोटो: यूपी तक

Mainpuri Byelection: यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद मैनपुरी में लोकसभा का उपचुनाव होना है. उपचुनाव के लिए सपा ने पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को अपना उम्मीदवार बनाया है. वहीं, दूसरी ओर भाजपा ने सियासी चाल चलते हुए मुलायम सिंह यादव के शिष्य और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के चीफ शिवपाल यादव के खासम-खास रहे रघुराज सिंह शाक्य को टिकट दी है. ऐसे में मैनपुरी में लड़ाई दिलचस्प मानी जा रही है. एक ओर मुलायम कि बड़ी बहू तो दूसरी तरफ उनके शिष्य हैं. इसी के चलते सपा ने उपचुनाव में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है. वहीं, यूपी तक को सपा के प्लान के बारे में जानकारी मिली है. सपा के इस प्लान से पता चला है कि पार्टी मैनपुरी की किस विधानसभा में किस नेता को जिम्मेदारी देगी. साथ ही इसकी भी जानकारी मिली है कि उपचुनाव में अखिलेश, डिंपल और शिवपाल किस रोल में रहेंगे.

अहम बिंदु

मिली जानकारी के अनुसार, मैनपुरी लोकसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी ने अपनी तरफ से चक्रव्यूह रच दिया है. अलग-अलग विधान सभा सीटों के हिसाब से जिम्मेदारी पार्टी के अलग-अलग नेताओं को दी गई है. धर्मेंद्र यादव को मैनपुरी, आदित्य यादव को जसवंतनगर, करहल और किशनी में से एक सीट पर तेज प्रताप यादव और जिला अध्यक्ष आलोक शाक्य को भोगांव विधानसभा सीट पर जिम्मेदारी दी गई है. वहीं, अखिलेश यादव, डिंपल यादव और शिवपाल यादव अलग-अलग इलाकों में जाकर जनसंपर्क और सभाएं करेंगे.

आपको बता दें कि अखिलेश यादव ने डिंपल के नामांकन के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा ''यह चुनाव ऐसे समय हो रहा है जब नेताजी (सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव) हमारे बीच नहीं हैं. नेताजी मैनपुरी की जनता के से आगे बढ़े और आज मैं यहां की जनता से अपील करूंगा कि नेताजी के दिखाये गए रास्ते पर आगे बढ़ें।"

उन्होंने कहा, "डिंपल यहां से सपा प्रत्याशी हैं और मुझे पूरा भरोसा है कि जिस तरह से यहां के लोगों ने नेताजी के नाम पर हमारा सहयोग किया, उसी तरह वे डिंपल को भी रिकॉर्ड मतों से जिताएंगे। डिंपल को पूरा वोट मिल जाए तो यह नेताजी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी."

गौरतलब है कि मैनपुरी लोकसभा सीट पर 1996 से सपा के उम्मीदवार चुने जाते रहे हैं. डिंपल यादव 2019 में कन्नौज से भाजपा उम्मीदवार सुब्रत पाठक के खिलाफ चुनाव लड़ी थीं और हार गई थीं. मैनपुरी संसदीय क्षेत्र में पांच विधानसभा क्षेत्र हैं- मैनपुरी, भोगांव, किशनी, करहल और जसवंत नगर. वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में सपा ने करहल, किशनी और जसवंत नगर सीट पर जीत हासिल की, जबकि भाजपा ने मैनपुरी और भोगांव सीट पर जीत हासिल की.

मैनपुरी में अखिलेश का चक्रव्यूह! शिवपाल, धर्मेंद्र, तेज प्रताप, आदित्य सबको दी जिम्मेदारी
मैनपुरी उपचुनाव: SP ने शिवपाल को बनाया स्टार प्रचारक, फिर भी BJP प्रत्याशी ने किया ये दावा

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in