वाराणसी: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ हुए बवाल में प्रदर्शनकारियों से वसूली जाएगी क्षतिपूर्ति

वाराणसी: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ हुए बवाल में प्रदर्शनकारियों से वसूली जाएगी क्षतिपूर्ति
वाराणसी में उपद्रवियों ने बसों में की तोड़फोड़ (फाइल फोटो)फोटो: रोशन जायसवाल

वाराणसी में उपद्रवी तत्वों द्वारा तोड़फोड़ में हुए नुकसान की भरपाई भी प्रशासन उन्हीं से करेगा. इसके लिए 27 उपद्रवियों को चिन्हित किया गया है जो इस समय जेल में बंद हैं. इनसे प्रशासन नुकसान की भरपाई करेगा. बीते दिनों 36 बसों को नुकसान पहुंचाया था, जिसमें लगभग 12 लाख 97 हजार 439 रुपए की क्षति हुई थी. मामले में अब तक कुल 27 उपद्रवियों की गिरफ्तारी हो चुकी है. इनसे ही क्षतिपूर्ति की धनराशि वसूल की जाएगी. जनपद गाजीपुर, जौनपुर, आजमगढ़, मऊ एवं वाराणसी के उपद्रवी जेल में बंद हैं. इनसे जिला प्रशासन नुकसान की भरपाई करेगा.

अहम बिंदु

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया है कि अग्निपथ भर्ती योजना के विरोध में हिंसक एवं तोड़फोड़ गतिविधि में लिप्त एवं पकड़े गए उपद्रवी तत्वों से हुए सार्वजनिक संपत्तियों के नुकसान की भरपाई की जाएगी. उन्होंने बताया कि गत दिवस वाराणसी में उपद्रवी तत्वों द्वारा कुल 36 बसों को नुकसान पहुंचाया गया है. जिसमें रुपये 12,97,439/- रुपए की क्षति हुई है. जबकि अब तक कुल 27 उपद्रवियों की गिरफ्तारी हो चुकी है. वहीं अन्य लोग चिन्हित भी किए गए हैं. उनकी भी गिरफ्तारी की कार्रवाई हो रही है. इन उपद्रवी से क्षतिपूर्ति की वसूली कराई जाएगी.

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि थाना सिगरा एवं जैतपुरा से जनपद गाजीपुर की ग्राम सभा-पचरुखवा, रेहरी मालीपुर, जौनपुर के ग्राम- नगोली, सैदखानपुर, गोबरा, बहरीपुर, लाल मझवार, भगरी व खवाजपुरा, जनपद आजमगढ़ के ग्राम सभा रासेपुर, जनपद मऊ के ग्राम सभा कुसवू तथा जनपद वाराणसी के ग्राम सभा-हथियर, हजीपुर, मुढ़ादेव, देवराईदान, चोलापुर एवं गोसाईपुर से लोगों को निरुद्ध किया गया है.

जिलाधिकारी ने नौजवानों से जोरदार अपील की है कि कतई किसी के बहकावे में न आवे और ऐसे किसी भी अराजक कार्य में लिप्त न होवे, जिससे उनका पूरा भविष्य खराब होने पाए. किसी भी प्रकार की गैर कानूनी कार्य में लिप्त एवं पकड़े जाने पर जहां वे भविष्य में सरकारी नौकरियों से वंचित होंगे, वहीं सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान होने पर उनसे ही भरपाई किया जाएगा.

गौरतलब है कि 17 जून को परिवहन निगम वाराणसी क्षेत्र एवं वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड की कुल 36 बसें, जिनमें से 21 बसें कैंट बस स्टेशन पर अपने रूट पर जाने के लिए खड़ी थीं और 15 बसें जो कैंट बस स्टेशन से काशी (गोलगड्डा) वर्कशॉप की ओर जा रहीं थी, को सिटी रेलवे स्टेशन की ओर से कैंट रेलवे स्टेशन की ओर जा रहे 100-150 उपद्रवियों के जत्थे ने पथराव एवं डंडों से वार करते नुकसान पहुंचाया.

उपद्रवियों द्वारा तोड़फोड़ में बसों के शीशे, हेडलाइट और सीट क्षतिग्रस्त कर दिये गये थे. जिससे उत्तर प्रदेश परिवहन निगम वाराणसी क्षेत्र को रुपया 4,06,950/ एवं वाराणसी सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड को रुपया 8,90,489/ यानी कुल 12,97,439 रुपए की क्षति हुई.

तोड़फोड़ की घटनाओं की तीन एफआईआर थाना सिगरा, दो थाना जैतपुरा और एक थाना कैंट वाराणसी में दर्ज कराई गई हैं. जिलाधिकारी वाराणसी द्वारा इसका पूरा दावा प्रस्ताव 27 व्यक्तियों के नाम और सभी फोटो, वीडियो साक्ष्य सहित तैयार करा कर सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान की वसूली के लिए गठित दावा प्राधिकरण प्रयागराज में भेज दिया गया है.

अहम बिंदु

17 जून की घटना में जिन और व्यक्तियों की संलिप्तता सामने आएगी उसके अनुसार वसूली के लिए और नाम दावा प्राधिकरण को भेजे जाएंगे. ऐसे व्यक्तियों की सूचना वाराणसी के ग्रामीण क्षेत्रों के सभी कर्मचारियों और गुप्त सूत्रों से और अन्य जनपदों के अधिकारियों से जुटाई जा रही है.

दर्शकों से मिले बेशुमार प्यार की ताकत ही है कि इंडिया टुडे ग्रुप के Tak परिवार के सदस्य यूपी तक ने YouTube पर 60 लाख सबस्क्रिप्शन का आंकड़ा पार कर लिया है. हमें और बेहतर बनने के लिए सिर्फ 60 शब्दों में आपके बेशकीमती सुझावों की जरूरत है. सुझाव देने वाले चुनिंदा लोगों को हमारी तरफ से आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे. यहां नीचे शेयर की गई खबर पर क्लिक कर बताए गए तरीके से अपने सुझाव हमें भेजें और इनाम पाएं.

वाराणसी में उपद्रवियों ने बसों में की तोड़फोड़ (फाइल फोटो)
YouTube पर UP Tak परिवार 60 लाख पार, हम और बेहतर कैसे बनें? 60 शब्दों में बताइए, इनाम पाइए
वाराणसी में उपद्रवियों ने बसों में की तोड़फोड़ (फाइल फोटो)
वाराणसी: भीषण गर्मी में महाश्मशान पर लगी शवों की कतार, न सिर पर छप्पर न दो घूंट पानी

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in