मुख्तार और अतीक के बाद अब इनके बेटे भी निशाने पर, इनकी गिरफ्तारी की कोशिशें तेज

मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद.
मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद. फोटो कोलाज: यूपी तक

यूपी के माफिया मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद के जेल में बंद होने के बाद अब इनके बेटे निशाने पर हैं. एक तरफ मुख्तार अंसारी के विधायक बेटे अब्बास अंसरी के खिलाफ लखनऊ की एक बदालत ने एबीडब्ल्यू जारी कर दिया है वहीं अतीक अहमद के दोनों बेटों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस का अभियान तेज हो गया है.

अहम बिंदु

आईजी प्रयागराज डॉ. राकेश कुमार सिंह ने बताया कि अतीक अहमद के फरार बेटों की गिरफ्तारी का अभियान तेज होगा. माफिया अतीक अहमद के फरार बेटों के ऊपर रखे गए इनाम की राशि और बढ़ाई जाएगी. छोटे बेटे अली के सिर पर भी इनाम घोषित किया है. उसकी भी राशि बढ़ाई जाएगी. पुलिस अतीक अहमद के दोनों को बेटों को जल्द गिरफ्तार करने का दावा कर रही है.

ध्यान देने वाली बात है कि अतीक अहमद के बड़े बेटे उमर मोहम्मद पर सीबीआई ने दो लाख का इनाम किया है घोषित.वहीं छोटे बेटे अली पर भी प्रयागराज पुलिस ने 50 हजार का इनाम किया है घोषित. हाल में ही एसटीएफ ने दोनों फरार बेटों के गिरफ्तारी के लिए कोलकाता में छापे मारे थे. छापेमारी से पहले अतीक के दोनों बेटे फ्लैट छोड़कर फरार हो गए थे. पुलिस कहना है कि जिले के अन्य भगोड़े अपराधियों के खिलाफ NBW की कार्यवाई होगी.

अब्बास को खोज रही पुलिस

अब्बास अंसरी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ है. अब्बास के खिलाफ लखनऊ के एमपी एमएला कोर्ट से NBW जारी किया गया है. कोर्ट ने कहा कि 27 जुलाई तक अब्बास कोर्ट में पेश हों. दरअसल मामला साल 2019 का है, जब महानगर इंस्पेक्टर ने लखनऊ में एक एफआईआर दर्ज कराई. एफआईआर लाइसेंस के दुरूपयोग की थी. यानी DBBL गन को अंसारी ने हेराफेरी कर एक खतरनाक हथियार बनाया.

क्या है एनबीडब्ल्यू

एनबीडब्ल्यू (नॉन बेलेबल वारंट) का नियम है कि जिस व्यक्ति के खिलाफ ये वारंट जारी होगा तो पुलिस उनको कहीं भी देखेगी तो पकड़कर गिरफ्तार करेगी और उसे कोर्ट के सामने पेश करेगी. पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए ही कहा जा रहा है कि वे लखनऊ वोट डालने नहीं आए.

मुख्तार अंसारी, अतीक अहमद.
माफिया मुख्तार अंसारी की पत्नी और दोनों सालों को पुलिस ने भगोड़ा घोषित किया, पड़ रहे छापे

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in