window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

फिरोजाबाद में जब दारोगा को मारी गोली तो उनके साथ बाइक पर बैठा था ये शख्स, जानें क्या बताया

सुधीर शर्मा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Firozabad News: उत्तर प्रदेश में अब पुलिस ही सुरक्षित नहीं है. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि सूबे में बदमाशों के मंसूबे इतने मजूबत हो गए हैं कि उन्होंने फिरोजाबाद में एक दारोगा की गोली मारकर हत्या कर दी है. दारोगा की हत्या से सनसनी मच गई है. वहीं, इस मामले में अब फिरोजाबाद के एसपी ने टीमों का गठन कर जांच का आदेश दे दिया. आपको बता दें कि जब दारोगा पर हमला हुआ था, तब उनके साथ एक शख्स भी मौजूद था. खबर में आगे जानिए उसने अपना आंखों देखा क्या हाल बताया.

एक मामले की जांच कर लौट रहे थे दारोगा

मालूम हो कि फिरोजाबाद में गुरुवार रात अज्ञात हमलावरों ने औराव थाने के अंतर्गत चंद्रपुरा चौकी इंचार्ज सब इंस्पेक्टर दिनेश चंद्र मिश्रा (55) की गोली मारकर हत्या कर दी. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) आशीष तिवारी ने बताया कि दिनेश कुमार मिश्रा एक मामले की जांच कर लौट रहे थे, तभी चंदनपुर गांव के पास उन पर गोली चला दी गई. इसके बाद मिश्रा को अस्पताल ले जाया गया जहां उन्होंने दम तोड़ दिया.

दरअसल, सब इंस्पेक्टर दिनेश मिश्रा मूल रूप से कन्नौज जिले के थाना इंदरगढ़ के गांव सदातपुर के रहने वाले थे. वर्तमान में उनका परिवार आगरा के कालिंद्री बिहार में रहता है. क्योंकि चंद्रपुर चौकी का क्षेत्र छोटा इलाका है, इसलिए उन्होंने खाना बनाने और अपने सहयोग के लिए अपने ही मिलने वाले धीरज शर्मा को अपने साथ रखा हुआ था.

क्या देखा था धीरज ने?

दरअसल, गुरुवार को रात 7:30 बजे जब दिनेश मिश्रा तफ्तीश के लिए निकले तो उन्होंने सहयोग के लिए धीरज शर्मा को मोटरसाइकिल पर अपने पीछे बैठा लिया और खुद ही बाइक चलाई. लगभग 8:20 बजे चंदनपुर गांव के पास एक तेज धामके जैसी आवाज हुई. धीरज के अनुसार, तेज आवाज से मोटरसाइकिल लहरा गई थी, जिससे लगा कि टायर फट गया है. यह अंदेशा नहीं था कि कोई गोली चली है.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

इसके बाद अनहोनी को भांपते हुए धीरज शर्मा ने तुरंत ही पुलिस को फोन लगाया और घटना के बारे में बताया. बताया जाता है कि जब यह घटना हुई उस समय धीरज शर्मा भी किसी से फोन पर बात कर रहे थे. रात में अंधेरा होने के कारण हत्यारे की सही से पहचान भी नहीं हो सकी.

7 माह पहके ही पदोन्नति होकर दारोगा बने थे मिश्रा

फिरोजाबाद जिले की चंद्रपुरा चौकी प्रभारी दिनेश शर्मा का प्रमोशन 7 माह पहले हुआ था. प्रमोशन के बाद उन्हें जनपद फिरोजाबाद की ही चंद्रपुरा चौकी का प्रभारी बनाया गया था. दिनेश मिश्रा लगभग 2 वर्षों से फिरोजाबाद जिले में ही पुलिस विभाग में अपनी सेवाएं दे रहे थे.

ADVERTISEMENT

पुलिस खंगाल रही सीसीटीवी फुटेज

पुलिस अधीक्षक देहात कुमार रणविजय सिंह ने बताया कि आसपास के इलाकों में सीसीटीवी कैमरे को खंगाला जा रहा है. ताकि यह पुष्ट हो सके कि किन लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया है. वे किस वाहन में आए और उन्होंने क्यों हत्याकांड को अंजाम दिया. आपको बता दें कि मामले के खुलासे के लिए एसएसपी आशीष तिवारी ने चार टीमों का गठन कर दिया है.

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT