window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

गाजीपुर में अफजाल से भिड़ने वालीं DM अर्यका अखौरी अब इस मिशन में जुटीं!

यूपी तक

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

DM Aryaka Akhouri: 28 मार्च 2024 को गैंस्टर से नेता बने माफिया मुख्तार अंसारी ने बांदा के एक अस्पताल में आखिरी सांस ली. इसके बाद 30 मार्च को मुख्तार अंसारी को सुपुर्द-ए-खाक किया गया. इस दौरान गाजीपुर की जिलाधिकारी आर्यका अखौरी और मुख्तार के बड़े भाई अफजाल अंसारी के बीच जमकर बहस हुई, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ. तब से ही डीएम आर्यका अखौरी चर्चा के केंद्र में हैं. बता दें कि इन दिनों डीएम आर्यका अखौरी एक अलग ही मिशन पर जुट गई हैं. वो मिशन है गाजीपुर में मतदान प्रतिशत को बढ़ाना. मालूम हो कि 1 जून को गाजीपुर में वोटिंग होनी है और यहां से सपा ने अफजाल अंसारी और भाजपा ने पारस नाथ राय को उम्मीदवार बनाया है. 

DM आर्यका अखौरी कर रहीं ये काम 

 

यूपी में इस बार लोकसभा चुनाव 7 चरणों में पूरे होने हैं, जिनमें से 3 चरणों में वोटिंग पूरी हो गई है. आगामी 13 मई को यूपी में चौथे चरण में 13 सीटों पर मतदान होना है. मालूम हो कि चुनाव आयोग के भरसक प्रयासों के बावजूद इस बार मतदान प्रतिशत में कमी देखने को मिल रही है. हर तरफ यही चर्चा है कि लोग मतदान के लिए घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं. ऐसे में डीएम गाजीपुर आर्यका अखौरी जिले में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए लोगों को प्रोत्साहित कर रही हैं. गाजीपुर में वोटिंग प्रतिशत बढ़ाने के लिए गाजीपुर में मैराथन और क्रिकेट मैच आयोजित कराए जा रहे हैं.

 

 

कौन हैं आर्यका अखौरी?

उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, 14 दिसंबर, 1985 को जन्मी आर्यका अखौरी मूल रूप से बिहार के पटना जिले की रहने वालीं हैं. वह 2013 बैच की आईएएस अधिकारी हैं. बता दें कि आर्यका अखौरी ने एमएससी (बायोटेक) की पढ़ाई की है.  वर्ष 2022 के सितंबर महीने में कई आईएएस अधिकारियों के तबादले हुए थे, जिसमें आर्यका का भी जिला बदला था, इससे पहले वह भदोही जिले की डीएम थीं.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT