युवती का चलती कार में ‘गैंगरेप’, सड़क पर फेंका, वारदात के 4 दिन बाद पुलिस ने दर्ज किया केस

सुनील यादव

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में चलती कार में एक युवती से कथित तौर पर गैंगरेप का मामला सामने आया है. गैंगरेप की वारदात को अंजाम देने के बाद पीड़िता को कार से फेंक कर आरोपी मौके से फरार हो गए. अयोध्या-प्रयागराज नेशनल हाइवे पर प्रतापगढ़ नगर कोतवाली क्षेत्र के सोनावा में सड़क पर आरोपियों ने युवती को फेंका. जब पीड़िता होश में आई तो उसने 112 पर पुलिस को फोन किया. मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को इलाज के लिए मेडिकल कालेज में भर्ती कराया है.ॉ

विस्तार से जानें पूरा मामला

अमेठी जिले की रहने वाली एक युवती प्रयागराज जिले में एक इंश्योरेंस कंपनी में एजेंट का काम करती है. पीड़िता के मुताबिक, पॉलिसी का झांसा देकर राहुल नामक युवक ने उसको संगम किनारे हनुमान मंदिर के पास रात को करीब 9 बजे बुलाया.

जानकारी के अनुसार, युवती ने देर रात होने की बात कही तो राहुल ने बताया कि कल वह शहर में नहीं रहेगा और उसके कुछ दोस्त भी पॉलिसी लेना चाहते हैं. आरोपी युवक ने युवती से आने को कहा. इसके बाद युवती ओला कार बुक कर प्रसार हनुमान मंदिर के पास गई, लेकिन राहुल का फोन नहीं लगा.

पॉलिसी समझने के बहाने युवती का गैंगरेप

जब युवती चुंगी के पास वापस आ गई तो दो मिनट बाद राहुल का फोन आया और उसने युवती को हनुमान मंदिर के पास मिलने को बुलाया. वहां पर पॉलिसी समझने के बहाने तीन युवकों ने युवती को कार में बैठा लिया और घुमाने लगे. जब शक हुआ तो युवती ने आरोपियों से प्यास लगने का बहाना देकर गाड़ी रोकने को कहा. फिर आरोपियों ने युवती को अपने पास रखी एक बोतल पानी पीने के लिए दिया, जिसमें कुछ नशीला पदार्थ मिला था. उसके बाद युवती बेहोश हो गई. आरोप है कि युवती की बेहोशी की अवस्था में आरोपियों ने उसके साथ गैंगरेप किया.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

वारदात के 4 दिन बाद पुलिस ने गैंगरेप और जाने मारने की धमकी की धाराओं में तीन अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है.

हालांकि, पुलिस मामले को प्रथम दृष्टया फर्जी बता रही थी. 11/12 मई रात को घटना हुई थी. वारदात के चार दिन बाद पुलिस ने गैंगरेप और जान से मारने की धमकी के मामले में मुकदमा दर् कर लिया है.

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT