window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

बाहुबली मुख्तार के बेटे MLA अब्बास अंसारी की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज, क्या अरेस्ट होंगे?

सत्यम मिश्रा

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

UP News : यूपी के बाहुबली मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari News) पहले से ही मुसीबतों में घिरे हुए हैं. उनके परिवार की भी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. मुख्तार अंसारी के विधायक बेटे अब्बास अंसारी (Abbas Ansari News) पर भी मुसीबत आन पड़ी है. अब्बास अंसारी के ऊपर वर्ष 2012 में राजधानी लखनऊ से जारी शस्त्र लाइसेंस बगैर सूचना दिए दिल्ली के पते पर ट्रांसफर कराने के आरोप का मामला चल रहा है. इस मामले में एमपी-एमएलए की विशेष सत्र अदालत ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया है.

जानकारी के मुताबिक स्पेशल जज हरबंस नारायण ने अपने आदेश में कहा कि आरोपी अब्बास अंसारी के खिलाफ पहले से ही अपराधिक मामले दर्ज हैं. शस्त्र लाइसेंस मामले में मामले में अरेस्ट वॉरंट भी 14 जुलाई को जारी किया जा चुका है. इसके चलते अर्जी स्वीकार नहीं की जा सकती और अग्रिम जमानत खारिज की जाती है. अब मुख्तार अंसारी के विधायक बेटे पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है.

मुख्तार अंसारी जैसे अपराधी कानून निर्माता हैं, यह लोकतंत्र पर एक धब्बा है: इलाहाबाद HC

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

आपको बता दें कि 12 अक्टूबर 2019 को लखनऊ के महानगर थाने में अब्बास अंसारी के खिलाफ पुलिस की तरफ से एफआईआर दर्ज की गई थी. जांच-पड़ताल के दौरान अब्बास अंसारी के पास से असलहा, मैगजीन और कारतूस बरामद किए गए थे. इसके बाद महानगर पुलिस ने थाने में आईपीसी की धारा 467, 468, 471, 420 और आर्म्स एक्ट की धारा 30 के तहत आरोप पत्र दाखिल किया था.

अब्बास अंसारी को ढूंढने के लिए पुलिस ने डाले थे छापे

Breaking UP News: पिछले दिनों मऊ सदर के विधायक अब्बास अंसारी को ढूंढने के लिए लखनऊ पुलिस ने राजधानी में कई जगह छापेमारी की कार्रवाई भी की थी. दरअसल अब्बास अंसारी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है. बताया जा रहा है कि गिरफ्तारी से बचने के लिए ही अब्बास पिछले दिनों राष्ट्रपति चुनाव में भी वोट डालने नहीं आए थे.

ADVERTISEMENT

बाहुबली बृजेश सिंह को बड़ी राहत! मुख्तार के काफिले पर हमला करने के मामले में HC ने दी जमानत

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT