BJP की महिला नेताओं पर यति नरसिंहानंद के बोल से मचा बवाल, महिला आयोग की मांग- अरेस्ट करो

ADVERTISEMENT

यति नरसिंहानंद सरस्वती गाजियाबाद स्थित डासना के शिव शक्ति धाम मंदिर के महंत हैं. अक्सर अपने विवादित बयानों के चलते चर्चा में रहते हैं. अब…
social share
google news

यति नरसिंहानंद सरस्वती गाजियाबाद स्थित डासना के शिव शक्ति धाम मंदिर के महंत हैं. अक्सर अपने विवादित बयानों के चलते चर्चा में रहते हैं. अब उनका एक वीडियो खूब सुर्खियां बटोर रहा है. इस वीडियो में उन्होंने बीजेपी की महिला नेताओं के बारे में आपत्तिजनक बातें बोली हैं. उनके इस वीडियो को लेकर कभी उनके समर्थन में रहने वाले बीजेपी नेता आज उनके खिलाफ तलवार लेकर मैदान में उतर गए हैं और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

नरसिंहानंद ने क्या बोला है अपने वायरल वीडियो में?

नरसिंहानंद कहते हैं, “इसके बाद आई ईमानदार सरकार और बहुत चरित्रवान लोगों की सरकार. अब सरकारी ठेकों का रेट हो गया 10 पर्सेंट. खुला रेट. बीजेपी में जितनी भी महिलाएं दिखाई दे रही हैं, वो एक नेता के पास गईं और दूसरे के पास नहीं तो दूसरा उनका काम नहीं करेगा. तीसरे से काम है तो तीसरे के पास जाना है. अब ये हैं ईमानदार और चरित्रवान लोग. ये है राजनीति. जितनी महिलाएं राजनीति करती घूम रही हैं, पूरा मजा आ रहा है. मैं कह तो कुछ नहीं सकता, मातृशक्ति हैं, मैं मातृशक्ति को प्रणाम करता हूं।”

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

इस वीडियो के वायरल होते ही राष्ट्रीय महिला आयोग ने ट्वीट किया, “NCW ने मामले का संज्ञान लिया है. राष्ट्रीय अध्यक्ष रेखा शर्मा ने यति नरसिंहानंद सरस्वती के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने और तुरंत गिरफ्तार करने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी को पत्र लिखा है.”

कौन हैं यति नरसिंहानंद सरस्वती?

ADVERTISEMENT

यति नरसिंहानंद सरस्वती शिव शक्ति धाम डासना मंदिर के महंत हैं. वह बीजेपी के पूर्व सांसद बीएल शर्मा को अपना गुरू मानते हैं. उनको अखिल भारतीय संत परिषद का राष्ट्रीय संयोजक भी बताया जाता है. इसके अलावा उनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने रूस में पढ़ाई की है और मॉस्को व लंदन समेत कई जगहों पर काम भी किया है. वह समाजवादी पार्टी से भी जुड़े रह चुके हैं. अभी हाल ही में वह तब चर्चा में दिखे थे जब डासना के एक मंदिर में कथित तौर पर एक बच्चे की पानी पीने को लेकर पिटाई की गई थी.

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT