window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

सतीश मिश्रा का बड़ा दावा- ‘ब्राह्मणों का चेहरा नहीं देखना चाहते CM योगी आदित्यनाथ’

संतोष शर्मा

ADVERTISEMENT

उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सियासी पारा बढ़ता जा रहा है. अपनी जीत को मुक्कमल करने के लिए सत्तारूढ़…

social share
google news

उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सियासी पारा बढ़ता जा रहा है. अपनी जीत को मुक्कमल करने के लिए सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से लेकर विपक्ष तमाम कोशिशें कर रहा है. इसी कड़ी में लखनऊ के मोहनलालगंज में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा और उनके बेटे कपिल मिश्रा ने यूपी तक से खास बातचीत की है. खबर में जानिए सतीश चंद्र मिश्रा और उनके बेटे ने क्या-क्या कहा?

चुनाव में बीजेपी-एसपी के बीच मुख्य तौर पर ‘लड़ाई’ की चर्चाओं पर बीएसपी राष्ट्रीय महासचिव ने कहा,

“देखिए अगर आप पोल प्रिडिक्शन पर जा रहे हैं तो इस पर मुझे कुछ इसलिए नहीं कहना है क्योंकि हम इसके आदी हो चुके हैं. हमारी पार्टी का सपोर्टर और वोटर इसको देखता ही नहीं है. हम लोग जमीन पर काम करते हैं, हमारे जितने भी कार्यकर्त्ता हैं, सब जमीनी स्तर के हैं…बीएसपी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनना निश्चित है.”

सतीश चंद्र मिश्रा

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

सतीश चंद्र मिश्रा ने सीएम योगी पर किया वार

सतीश चंद्र मिश्रा बोले, “बीजेपी ने ब्राह्मणों को अपना दुश्मन मान लिया है. बीजेपी के जो मुख्यमंत्री (योगी आदित्यनाथ) हैं उत्तर प्रदेश के वो तो ब्राह्मणों की शक्ल तक नहीं देखना चाहते. अबकी बार उसने (ब्राह्मणों) ने मन बना लिया है, जिस तरीके से उसने 2007 में समाजवादी पार्टी को उखाड़ फेंकने का मन बनाया था.”

फोन टैपिंग के मुद्दे पर क्या बोले सतीश चंद्र मिश्रा?

फोन टैपिंग के मुद्दे पर बीएसपी राष्ट्रीय महासचिव ने कहा, “उसकी चिंता हम नहीं करते हैं. हमको कोई बताए तो हम उनको ऐसे ही अपना फोन टैप करवा देंगे.”

ADVERTISEMENT

सतीश चंद्र मिश्रा के बेटे ने कहा,

“…मेरे बस में जो होगा, मैं उसमें पूरी मेहनत करने की कोशिश करूंगा अपने आदरणीय पिताजी की मदद करने के लिए. वो जो मेहनत कर रहे हैं ताकि सबका सुधार हो सके. वो तभी हो सकता है जब आदरणीय बहनजी (मायावती) पांचवी बार प्रदेश की मुख्यमंत्री बनेंगी.”

कपिल मिश्रा

कपिल बोले- ‘हमें वकील ही समझिए’

अपने को नेता कहने के सवाल पर कपिल ने कहा, “हमें अभी भी वकील ही समझिए…मैं बस एक जरिया बनना चाहता हूं युवाओं की परेशानी को बहनजी तक पहुंचने के लिए और जब बहनजी सीएम बनकर आएं तो युवाओं की समस्याओं का समाधान हो.”

(पूरा इंटरव्यू देखने के लिए ऊपर दिए गए लिंक पर क्लिक करें)

BJP सरकार में जितना महिला उत्पीड़न हुआ, उतना कभी नहीं हुआ: सतीश चंद्र मिश्रा

follow whatsapp

ADVERTISEMENT