window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

मिलिए BJP-SP की किन्नर नेताओं से, जानिए ट्रांसजेंडर समुदाय के चुनावी मुद्दे

यूपी तक

ADVERTISEMENT

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राज्य की योगी सरकार ने ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड का गठन किया तो समाजवादी पार्टी…

social share
google news

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राज्य की योगी सरकार ने ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड का गठन किया तो समाजवादी पार्टी (एसपी) ने किन्नर सभा के नाम से एक नई विंग बना दी.

सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और मुख्य विपक्षी दल एसपी की यह पहल किन्नर समुदाय को अपने पाले में साधने की कोशिश के तौर पर देखी जा रही है.

हमने उत्तर प्रदेश ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड की उपाध्यक्ष सोनम चिश्ती और एसपी किन्नर सभा की अध्यक्ष पायल किन्नर से बातचीत की. और जानने की कोशिश कि इस बार के यूपी चुनाव में किन्नर समुदाय के क्या मुद्दे होंगे.

बता दें कि सोनम पहले एसपी में रह चुकी हैं. कुछ महीने पहले वो बीजेपी में शामिल हुईं.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

उन्होंने कहा, “2010 से मैं अखिलेश यादव के साथ रही हूं. 2010 से उनकी पार्टी के लिए काम किया. सरकार बनने के बाद भी उन्होंने मुझे मंत्री पद नहीं दिया, जिसके लिए उन्होंने मुझसे वादा किया था. मैं अजमेर शरीफ (राजस्थान) में रहती थीं. अखिलेश यादव मुझे यूपी लेकर आए थे. मैं देश में ऐसी पहली ट्रांसजेंडर थीं, जिसे अजमेर नगर निगम का नॉमिनेटेड काउंसलर बनाया गया था.”

सोनम ने आगे कहा,

“अखिलेश यादव ने मुझसे वादा किया था कि सोनम सरकार बनने के बाद आपको मंत्री या एमएलसी बना दूंगा. अपने समुदाय को लेकर राजनीति में काम करने की मेरी इच्छा थी, लेकिन उन्होंने (अखिलेश यादव) मौका नहीं दिया. मैंने उनसे कहा था हमारे लिए पार्टी में एक अलग से विंग बना दीजिए, लेकिन उन्होंने (अखिलेश यादव) ध्यान नहीं दिया.”

सोनम चिश्ती, उपाध्यक्ष , उत्तर प्रदेश ट्रांसजेंडर कल्याण बोर्ड

ADVERTISEMENT

बीजेपी में शामिल होने को लेकर सोनम ने बताया, “सीएम योगी आदित्यनाथ के ऑफिस से एक-दो बार फोन आया था. बीजेपी के सुनील बंसल, स्वंतत्र देव सिंह, अमित शाह से मेरी मुलाकात हुई. वो लोग किन्नरों को बहुत सम्मान देते हैं. मैं मोदी जी को अहमदाबाद में राखी बांधी हूं…तो उन्होंने कहा था कि आप पार्टी मैं आइए, आपका स्वागत हैं, एक ट्रांसजेंडर बोर्ड का हम गठन कर देंगे और आपको उसमें काम करने का मौका देंगे.”

इसके अलावा सोनम ने सीएम योगी की तारीफ करते हुए कहा, “योगी आदित्यनाथ का चेहरा गुलाब के फूल की तरह खिलता रहता है. अखिलेश जी से ज्यादा स्मार्ट योगी आदित्यनाथ लगते हैं. योगी आदित्यनाथ के लिए यूपी की 25 करोड़ की जनता परिवार है. जब से यूपी में योगी सरकार बनी है तब से राज्य में कोई दंगा नहीं हुआ है.”

वहीं, एसपी किन्नर सभा की अध्यक्ष पायल किन्नर ने कहा कि उन्हें एसपी में काफी सम्मान मिल रहा है. उन्होंने कहा कि दूसरी पार्टियों ने किन्नर विंग तो बनाया है, लेकिन उसमें किन्नरों को शामिल नहीं किया गया है.

उत्तर प्रदेश किन्नर कल्याण बोर्ड और सोनम चिश्ती लेकर पायल किन्नर ने कहा, “बोर्ड में किन्नरों के लिए कोई काम नहीं हो रहा है. जिन्हें बोर्ड का उपाध्यक्ष बनाया गया है, वो (सोनम) हमारे समाज से नहीं है. वो यूपी की नहीं है, अजमेर से आई हुई हैं.”

सोनम को लेकर उन्होंने आगे कहा, “अभी तक उन्होंने किन्नरों को लेकर कोई काम नहीं किया है. अगर उन्हें कहीं बुलाया जाता है, तो वो कहती हैं कि मुझे इलाका दे दो तब मैं साथ दूंगी, मुझे पैसे दो तब साथ दूंगी.”

सोनम चिश्ती और पायल किन्नर के साथ दिलचस्प बातचीत को विस्तार से देखने के लिए ऊपर दिए गए वीडियो पर क्लिक करिए.

यूपी चुनाव: जेपी नड्डा बोले- ‘भ्रष्टाचार और दुराचार की पर्यायवाची है समाजवादी पार्टी’

follow whatsapp

ADVERTISEMENT