ताजमहल में विदेशी महिला पर्यटक को बंदर ने काटा, वहीं करनी पड़ गई मरहम-पट्टी, उठे सवाल

ताजमहल में विदेशी महिला पर्यटक को बंदर ने काटा, वहीं करनी पड़ गई मरहम-पट्टी, उठे सवाल
फोटो कोलाज: अरविंद शर्मा, यूपी तक

ताजमहल में बंदरों का आतंक लगातार बढ़ता जा रहा है. ताजमहल का दीदार करने सोमवार सुबह आई स्पेनिश महिला पर्यटक पर बंदर ने हमला कर दिया. बंदर ने महिला पर्यटक के पैर में काटकर घायल कर दिया. महिला के पैर से खून निकलने लगा. ये देख मौके पर मौजूद लोगों ने महिला पर्यटक को फर्स्ट एड दिया.

अहम बिंदु

खून के बहाव को कम करने के लिए महिला पर्यटक के पैर में पट्टी बांधी गई. घायल हालत में महिला ताजमहल से रवाना हुई. बंदर के हमले से महिला पर्यटक दहशत में आ गई. ताजमहल में बंदरों के आतंक के आगे हर कोई मानो बेबस हो चुका है. बंदरों को ताजमहल से भगाने के लिए एएसआई के कर्मचारियों की ड्यूटी तक लगा दी गई है, लेकिन बंदरों की समस्या दूर नहीं हो पा रही है.

स्क्रीन ग्रैब: अखिलेश यादव के ट्वीटर से.

मामले पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा- ''ताजमहल में विदेशी पर्यटक को बंदर द्वारा काटे जाने का समाचार बेहद गंभीर है। देश-प्रदेश में आर्थिक बदहाली के बीच अगर विदेशी पर्यटक डर गये तो पर्यटन उद्योग व उप्र की आय का साधन भी प्रभावित होगा। डीएम के चश्मे की तरह क्या बंदर पकड़ने का फंड भी बंदर ले उड़े या उसकी बंदरबाँट हो गयी?''

अभी कुछ दिन पहले पर्यटकों ने तमिलनाडु से आए पर्यटक शाहीन रशीद की पीठ में बन्दर ने काट खाया था. इसके अलावा भी बंदर कई पर्यटकों को अपना शिकार बना चुके हैं. बंदर जब तक एएसआई कर्मचारियों पर भी हमला कर देते हैं. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के अधीक्षण पुरातत्वविद ने बताया कि बंदरों की समस्या बहुत गंभीर है.

पर्यटकों के आने से पहले एएसआई के कर्मचारी ताजमहल परिसर से बंदरों को भगाने का प्रयास करते हैं, लेकिन बंदर कर्मचारियों पर भी हमलावर हो जाते हैं. अधीक्षण पुरातत्वविद ने बताया कि पर्यटकों की सुविधा के लिए ताजमहल में जगह-जगह बंदरों से सावधान रहने के बोर्ड भी लगाए गए हैं. उन्होंने बताया कि लोगों से सुझाव भी मांगे गए हैं. बंदरों को ताज परिसर से हटाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं.

ताजमहल में विदेशी महिला पर्यटक को बंदर ने काटा, वहीं करनी पड़ गई मरहम-पट्टी, उठे सवाल
आगरा: ताजमहल देखने आईं थीं क्वीन एलिजाबेथ, 1961 के इन फोटोज में देखिए उनसे जुड़ी ये यादें

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in