Varanasi Tak: सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की कमी मरीजों के लिए बनी समस्या

वाराणसी (Varanasi News) के सरकारी अस्पतालो में डॉक्टरों की भारी किल्लत देखने को मिल रही है. जिले के मंडलीय अस्पताल में डॉक्टरों की कमी के चलते मरीजों और उनके तीमारदारों को भारी मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है.

घंटों इंतजार और लंबी लाइन को झेलते हुए बमुश्किल ही मरीजों का इलाज हो पा रहा है. बता दें कि मंडलीय अस्पताल में जहां 47 चिकित्सकों की नियुक्ति होनी चाहिए थी, जबकि 22 डॉक्टर ही पूरे अस्पताल को संभाले हुए हैं.

यूपी तक ने मौके पर जाकर मरीजों और उनके तीमारदारों से बातचीत कर उनकी समस्याओं को जानने की कोशिश की है. एक महिला सुमन ने बताया कि लोग कोई न कोई सोर्स लगाकर अस्पताल में अपने मरीजों को दिखा ले रहे हैं.

उन्होंने ये भी बताया कि उन्हें खुद डॉक्टर को दिखाने में काफी दिक्कत हुई है. लंबी भीड़ होने के कारण होने के चलते उन्हें काफी मशक्कत से डॉक्टर को दिखाने का मौका मिल पाया है. महिला का आरोप है कि बल्ड टेस्ट के लिए उन्हें करीब 3 घंटे का इंतजार करना पड़ा.
वहीं एक दूसरी महिला मरीज सरिता ने यूपी तक को बताया कि उनके मासूम बच्चे को अस्पताल के डॉक्टरों ने अच्छे से नहीं देखा है और बीएचयू अस्पताल जाने को कहा है.

एक मरीज के तीमारदार आशीष गुप्ता ने बताया कि वह कई दिनों से मंडलीय अस्पताल में आकर अपने मरीज को दिखाते हैं. इस दौरान उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. उन्होंने कहा कि मरीज को दिखाने के दौरान कहा जाता है कि डॉक्टर मौजूद नहींं हैं. इसकी शिकायत हमने सीएमओ को दी है.

इस खबर की शुरुआत में टॉप में शेयर किए गए Varanasi Tak के वीडियो पर क्लिक कर अन्य लोगों की राय भी देख सकते हैं.

Varanasi Tak: सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की कमी मरीजों के लिए बनी समस्या
वाराणसी में बच्चा चोरी कर किडनी निकालने की फैला रहे थे अफवाह, पुलिस ने सिखा दिया सबक

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in