बुलंदशहर: देश की सुरक्षा में तैनात दलित जवान को अपनी घुड़चढ़ी के लिए मांगनी पड़ी सुरक्षा

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सीआरपीएफ जवान ने किसी विवाद के आशंका के चलते अपनी ही शादी में घुड़चढ़ी में सुरक्षा की मांग को लेकर पुलिस से गुहार लगाई है. दरअसल, बुलंदशहर के ककोड़ थाना क्षेत्र के गांव गढ़ाना के रहने वाले सीआरपीएफ जवान गौरव दलित समुदाय से आते हैं और वह जम्मू कश्मीर में तैनात हैं.

अहम बिंदु

जवान गौरव को डर है कि उनकी शादी के दौरान घोड़ी चढ़ने पर कोई विवाद की स्थिति न उत्पन्न हो जाए, इसलिए उन्होंने घुड़चढ़ी के लिए पुलिस से सुरक्षा की मांग की है. चूंकि, 8 महीने पहले जवान गौरव के गांव में ही घुड़चढ़ी के दौरान हुए विवाद में एक शख्स की हत्या कर दी गई थी. जिसको देखते हुए जवान ने सुरक्षा की मांग को लेकर पुलिस से गुहार लगाई है.

वहीं एसपी सिटी एसएन तिवारी ने जवान के गांव गढ़ाना में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती का आदेश दिया है. उनका कहना है कि घुड़चढ़ी के लिए पुलिस सुरक्षा दी जाएगी. उन्होने बताया, "पिछले वर्ष घुड़चढ़ी के दौरान गांव गढ़ाना में एक घटना हो गयी थी, जिसके चलते जवान ने सुरक्षा की मांग की है. पर्याप्त मात्रा में पुलिस फोर्स लगाकर घुड़चढ़ी के कार्यक्रम को संपन्न किया जाएगा."

(पूरा मामले विस्तार से जानने के लिए ऊपर दिए गए वीडियो पर क्लिक करें)

बुलंदशहर: देश की सुरक्षा में तैनात दलित जवान को अपनी घुड़चढ़ी के लिए मांगनी पड़ी सुरक्षा
क्या ईद से पहले जेल से रिहा हो जाएंगे आजम? जानिए उनके मीडिया प्रभारी ने क्या कहा

संबंधित खबरें

No stories found.