सपा चीफ अखिलेश यादव, कांग्रेस समेत ‘INDIA’ के नेताओं को मायावती ने दे दिया अपना ये साफ संदेश

यूपी तक

ADVERTISEMENT

बसपा चीफ मायावती
BSP chief Mayawati without taking names targeted Akhilesh Yadav Congress and leaders of India Alliance
social share
google news

UP Politics: कांग्रेस (Congress) समेत विपक्षी INDIA गठबंधन ने बहुजन समाज पार्टी (BSP) की चीफ मायावती (Mayawati) को गठबंधन के साथ जोड़ने की काफी कोशिश की. मगर बसपा सुप्रीमो ने विपक्षी गठबंधन के साथ जुड़ने से साफ मना कर दिया. बसपा चीफ मायावती ने कहा था कि वह अकेले ही लोकसभा चुनाव के मैदान में उतरेंगी. सियासी हलकों में इस बात की भी चर्चाएं हैं कि विपक्षी नेता अभी भी बसपा चीफ को मनाने की कोशिश कर रहे हैं और उन्हें गठबंधन के साथ जोड़ने की पहल की जा रही है.

इसी बीच बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने एक बार फिर विपक्षी दलो को खूब सुना दिया है. मायावती ने कांग्रेस, समाजवादी पार्टी समेत किसी भी विपक्षी पार्टी का नाम नहीं लेते हुए इन पार्टियों पर खूब निशाना साधा है और अपना संदेश भी सख्त लहजे में इनतक पहुंचा दिया है. 

जानिए क्या कहा बसपा चीफ मायावती ने?

बसपा चीफ मायावती ने सोशल मीडिया X पर ट्वीट किया. इस दौरान उन्होंने फिर कहा कि बसपा अपने लोगों के सहारे लोकसभा चुनाव अकेले और अपने बलबूते पर लड़ेगी. ये फैसला अटल है. इस दौरान उन्होंने विपक्षी गठबंधन पर भी निशाना साधा.

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

बसपा चीफ मायावती ने ट्वीट किया, ‘आगामी लोकसभा आमचुनाव बीएसपी द्वारा किसी भी पार्टी से गठबंधन नहीं करने की बार-बार स्पष्ट घोषणा के बावजूद आए दिन गठबंधन सम्बंधी अफवाह फैलाना यह साबित करता है कि बीएसपी के बिना कुछ पार्टियों की यहां सही से दाल गलने वाली नहीं है, जबकि बीएसपी को अपने लोगों का हित सर्वोपरि है.’

1. आगामी लोकसभा आमचुनाव बीएसपी द्वारा किसी भी पार्टी से गठबंधन नहीं करने की बार-बार स्पष्ट घोषणा के बावजूद आएदिन गठबंधन सम्बंधी अफवाह फैलाना यह साबित करता है कि बीएसपी के बिना कुछ पार्टियों की यहाँ सही से दाल गलने वाली नहीं है, जबकि बीएसपी को अपने लोगों का हित सर्वोपरि है।

— Mayawati (@Mayawati) February 19, 2024 ">

बसपा अकेले लड़ेगी चुनाव- मायावती

इसके बाद बसपा चीफ ने एक और ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, ‘सर्वसमाज के ख़ासकर ग़रीबों, शोषितों एवं उपेक्षितों के हित व कल्याण के मद्देनज़र बीएसपी का देश भर में अपने लोगों के तन, मन, धन के सहारे अकेले अपने बलबूते पर लोकसभा आमचुनाव लड़ने का फैसला अटल है. लोग अफवाहों से ज़रूर सावधान रहें.

ADVERTISEMENT

2. अतः सर्वसमाज के ख़ासकर ग़रीबों, शोषितों एवं उपेक्षितों के हित व कल्याण के मद्देनज़र बीएसपी का देश भर में अपने लोगों के तन, मन, धन के सहारे अकेले अपने बलबूते पर लोकसभा आमचुनाव लड़ने का फैसला अटल है। लोग अफवाहों से ज़रूर सावधान रहें।

— Mayawati (@Mayawati) February 19, 2024 ">

बता दें कि यूपी में विपक्षी INDIA गठबंधन में कांग्रेस के साथ अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी भी शामिल हैं. शुरू में कांग्रेस समेत कई पार्टियों के नेताओं ने कोशिश की थी कि बसपा विपक्षी महागठबंधन का हिस्सा बन जाए. यहां तक की अखिलेश यादव भी बसपा को शामिल करने पर राजी थे. मगर मायावती ने अपने जन्मदिन के मौके पर ऐलान कर दिया था कि उनकी पार्टी अकेले और अपने दम पर ही लोकसभा चुनाव लड़ेगी. एक बार फिर मायावती ने विपक्षी दलों को अपना संदेश दे दिया है.

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT