window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

Phalodi Satta Bazar: फलोदी सट्टा बाजार ने अखिलेश को दी गुड न्यूज! बताया कितनी सीटें जीतेगी सपा

यूपी तक

ADVERTISEMENT

UPTAK
social share
google news

Phalodi Satta Bazar: देखते ही देखते लोकसभा चुनाव अब अपने अंतिम पड़ाव पर आ खड़ा है. बस कुछ ही दिन बाद 4 जून की तारीख आ जाएगी, जब देश चुनाव के नतीजों से रूबरू होगा. ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यही है कि यूपी में किस पार्टी का कैसा प्रदर्शन रहेगा. एक तरफ सत्ताधारी भाजपा है जिसका दावा है कि वह यूपी की 80 में से 80 सीटों पर फतह हासिल करेगी. वहींम दूसरी तरफ सपा और कांग्रेस का गठबंधन है जो यह कह रहा है कि यूपी में इस बार भाजपा हाफ हो जाएगी और देश से साफ. हालांकि किसका दावा सही होगा, इस बात की तस्दीक चार जून को ही होगी. मगर इस बीच तमाम चुनावी विश्लेषकों के साथ-साथ अलग-अलग जगहों के सट्टा बाजार अपने-अपने दावे कर रहे हैं. इस बीच राजस्थान के फलोदी सट्टा बाजार ने उत्तर प्रदेश के नतीजों को लेकर बड़ी भविष्यवाणी की है. खबर में आगे जानिए फलोदी सट्टा बाजार सपा-कांग्रेस को यूपी में कितनी सीटें दे रहा है?

सपा-कोंग्रस को लेकर क्या है Phalodi Satta Bazar का अनुमान?

आपको बता दें कि फलोदी सट्टा बाजार ने कांग्रेस और समाजवादी पार्टी को राज्य में 15-25 सीटें जीतने का अनुमान है. मालूम हो कि 2019 के चुनावों में यूपी की समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने भाजपा से मुकाबला करने के लिए हाथ मिलाया था. मगर तब गठबंधन राज्य की 80 लोकसभा सीटों में से केवल 15 सीटें ही जीत सका था और एक सीट कांग्रेस ने जीती थी.

भाजपा को लेकर क्या है भविष्यवाणी?

फलोदी सट्टा बाजार के अनुसार, भाजपा को उत्तर प्रदेश में एक जोरदार झटका लगने वाला है. इसके अनुमान के अनुसार, भाजपा  यूपी में में 55-65 सीटें जीत सकती है, जो कि 2019 के चुनावों में 62 सीटों और 2014 के चुनावों में 71 सीटों से कम हैं. बता दें कि 2019 के स्कोर से नीचे की स्थिति भाजपा के लिए खराब प्रदर्शन होगा. अगर यूपी में भाजपा का खराब प्रदर्शन रहता है तो यही कहा जाएगा कि पार्टी अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन के बाद मिली गति को बरकरार रखने में विफल रही.    
 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT