Varanasi Tak: जलभराव के पानी में धान की रोपाई कर स्थानीय लोगों ने किया विरोध

यूपी की योगी सरकार (Yogi government) गड्ढा मुक्त प्रदेश का का दम भर रही है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में ही इस दावे की हवा निकलती दिख रही है और तो और लोगों के सब्र का बांध भी टूट रहा है. वाराणसी के बीएचयू के हैदराबाद गेट से लगभग एक किलोमीटर दूर विवेक नगर कॉलोनी नसीरपुर सुसुवाही में जलजमाव की समस्या से परेशान लोगों ने सड़क पर लगे पानी में उतरकर ही धान की रोपाई कर डाली.

लोगों ने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय पत्र के जरिये और स्थानीय विधायक से भी कई बार समस्या की शिकायत की गई. लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला. हाल ही में उनका इलाका नगर निगम में आया है. नगर निगम कार्यालय पर भी पत्र दिया गया, लेकिन स्थिति जस की तस है.

धान रोपाई करते हुए लोगों ने जमकर विधायक के खिलाफ नारेबाजी की और मोदी सरकार के दावों को फेल बताया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है जहां तमाम दावे भरे जाते हैं लेकिन यह दावे हवा-हवाई नजर आ रहे हैं. हमने कई जगहों पर शिकायत की है, लेकिन आज तक उसका समाधान नहीं हो पाया है.

प्रदर्शनकारियों ने कहा पिछले 2 सालों से वर्षा काल में सड़क पर 1 से 2 फीट ऊंचा पानी लग रहा है. पूरे इलाके में पढ़ने वाले कई छात्र-छात्राएं भी रहते हैं. उनको भी आने-जाने में काफी समस्याएं होती हैं. वहीं जलजमाव की स्थिति के कारण बीमारियों का भी खतरा काफी ज्यादा है.

लोगों ने कहा कि इस समय डेंगू की बीमारी बहुत तेजी से फैल रही है, लेकिन नगर निगम द्वारा कोई छिड़काव तक नहीं कराया जा रहा है.

इस खबर की शुरुआत में टॉप में शेयर किए गए Varanasi Tak के वीडियो पर क्लिक कर पूरा मामला विस्तार से देख सकते हैं.

Varanasi Tak: जलभराव के पानी में धान की रोपाई कर स्थानीय लोगों ने किया विरोध
वाराणसी में बन रहा UP का पहला इलेक्ट्रिक पशु शवदाह गृह, 2.24 करोड़ रुपये आएगी लागत

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in