रामपुर लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस नेता ने किया BJP का समर्थन, अजब पॉलिटिक्स की गजब कहानी

रामपुर लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस नेता ने किया BJP का समर्थन, अजब पॉलिटिक्स की गजब कहानी
नवाब काजिम अली खान.तस्वीर: आमिर खान, यूपी तक.

देश के अधिकतर सूबों में राजनीति दो खेमों मे बंटी हुई नजर आती है, जिसमें एक तरफ सत्तारूढ़ भाजपा है तो वहीं दूसरी तरफ मुख्य विपक्षी दल के रूप में कांग्रेस पार्टी है. लोकसभा चुनावों में दोनों ही पार्टियों का जबरदस्त दखल रहता है, लेकिन यूपी में होने वाले लोकसभा उपचुनाव में रामपुर की महत्वपूर्ण सीट पर अलग ही राजनीति देखने को मिल रही है. कांग्रेस ने यहां लोकसभा उपचुनाव के लिए अपना प्रत्याशी नहीं उतारा है. ऐसे में कांग्रेस में अपना अहम रोल अदा करते चले आ रहे हैं नवाब खानदान की सियासत खटाई में पड़ती नजर आ रही है. अब ऐसे हालात में नवाब साहब की नाराजगी तो बनती ही है. यही हुआ भी और कांग्रेस नेता नवाब काजिम अली खान ने यहां उपचुनाव में खुलकर भाजपा प्रत्याशी घनश्याम सिंह लोधी के समर्थन का ऐलान कर दिया है.

अहम बिंदु

रामपुर के नवाब खानदान का हमेशा से ही राजनीतिक स्तर पर कांग्रेस पार्टी से विशेष लगाव रहा है. यही कारण है कि नवाब जुल्फिकार अली खान कई मर्तबा पार्टी के टिकट पर सांसद चुनकर संसद पहुंचे. उनकी मृत्यु के बाद उनकी पत्नी बेगम नूर बानो भी दो बार कांग्रेस के टिकट पर चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचीं. यही नहीं उनके बेटे नवाब काजिम अली खान ने भी कई बार विधानसभा का चुनाव जीता. हालांकि यह बात अलग है कि उन्होंने सपा और बसपा में भी रहकर चुनाव जीते.

साल 2014 में हुए लोकसभा के चुनाव में उन्होंने फिर से अपने पुराने घर यानी कांग्रेस के टिकट पर आजम खान के मुकाबले चुनाव लड़ा था. हाल ही में हुए विधानसभा के चुनावों में उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर आजम खान से मुकाबला किया था, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा. अब आजम खान के लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद रामपुर में उप चुनाव हो रहे हैं. यहां पर पहली बार ऐसा देखने को मिला कि कांग्रेस पार्टी ने नवाब खानदान को नजरअंदाज करते हुए किसी भी प्रत्याशी को चुनाव ना लड़ाने की घोषणा कर डाली.

इसके बाद से चुनाव लड़ने का सपना अपनी आंखों में सजाए बैठे नवाब खानदान के दो बड़े चेहरे, जिनमें से पूर्व सांसद बेगम नूर बानो एवं उत्तर प्रदेश सरकार में पूर्व मंत्री रह चुके नवाब काजिम अली खान को तगड़ा झटका लगा है. नवाब काजिम अली खान ने उपचुनाव में कांग्रेस आलाकमान द्वारा पार्टी प्रत्याशी ना उतारे जाने का जबरदस्त विरोध किया है. बाकायदा उन्होंने इसको लेकर पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी को पत्र लिखकर अपनी नाराजगी जाहिर की है. उनकी नाराजगी यहीं तक ही नही रुकी है. नवाब काजिम अली खान ने कांग्रेस की विचारधारा के विपरीत राजनीति करने वाले भाजपा के घोषित प्रत्याशी घनश्याम सिंह लोधी के समर्थन का खुला ऐलान भी किया है.

इस खबर की शुरुआत में शेयर किए गए एक्सक्लूविस वीडियो में नवाब खुद इसकी वजह बता रहे हैं. क्या आजम खान के विरोध की राजनीति में वह बीजेपी के समर्थन की बात कर रहे हैं? वीडियो में इस पूरी राजनीति को खुद उन्हीं से समझा जा सकता है.

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in