window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

5 घंटे पेड़ पकड़ बाढ़ के बीच फंसा रहा शख्स, लखीमपुर खीरी से आई जिंदगी से जंग की गजब कहानी

अभिषेक वर्मा

ADVERTISEMENT

Lakhimpur Kheri
Lakhimpur Kheri
social share
google news

UP News: जाको राखे साइयां मार सके ना कोई…ये पंक्तियां लखीमपुर खीरी में सही साबित हुई. यहां एनडीआरएफ के जवान मौत के मुंह से एक शख्स को बचा कर निकाल लाए. दरअसल इस समय उत्तर प्रदेश के कई जिले बाढ़ की चपेट में हैं. ऐसे में लखीमपुर खीरी के बनबसा बैराज से भी लाखों क्यूसेक पानी शारदा नदी में छोड़ दिया गया, जिससे बाढ़ आ गई. 

इस दौरान संपूर्णानगर थाना क्षेत्र में मिल कॉलोनी के रहने वाले परशुराम भी बाढ़ के पानी में फंस गए. इस दौरान उन्हें अपनी जिंदगी एक पेड़ के जरिए बचाने की कोशिश की. वह करीब 5 घंटे तक पेड़ को पकड़े रहे. पानी के तेज बहाव के आगे परशुराम ने हिम्मत नहीं हारी और वह पेड़ की टहनी मजबूती के साथ पकड़े रहे. तभी एक लेखपाल की नजर बाढ़ के तेज बहाव में फंसे शख्स पर फंसी. उसने मदद का भरोसा दिया और फौरन प्रशासन को मामले की सूचना दी. 

जिंदगी बचाने के लिए फौरन आ गई एनडीआरएफ की टीम

मामले की सूचना जैसे ही जिला अधिकारियों को मिली, उन्होंने फौरन एनडीआरएफ की टीम मौके पर रवाना कर दी. दूसरी तरफ बाढ़ में फंसे परशुराम भी तेज पानी का सामना करते-करते और पेड़ मजबूती के साथ पकड़े-पकड़े थक गए थे. मगर उन्होंने हिम्मत नहीं हारी थी. 

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

रात करीब 2 बजे एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची. इस दौरान एनडीआरएफ की टीम ने बड़ी हिम्मत के साथ बाढ़ के तेज पानी में फंसे परशुराम को सुरक्षित निकाला और उसे अपने कब्जे में लिया. एनडीआरएफ की टीम ने बाढ़ में फंसे-फंसे ही शख्स को लाइफ सेविंग जैकेट पहनाई और रस्सियों के सहारे उसकी जान बचाई. 

अब बाढ़ में फंसे शख्स के वीडियो और एनडीआरएफ टीम के रेस्क्यू के फोटो-वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहे हैं. लोग परशुराम की हिम्मत को भी सलाम कर रहे हैं. 

ADVERTISEMENT

एसपी लखीमपुर खीरी ने ये बताया

इस पूरे मामले पर (एसपी लखीमपुर खीरी) गणेश प्रसाद साहा ने बताया,  वह शख्स पेड़ को पकड़े हुए थे. एनडीआरएफ की टीम और स्थानीय स्तर के प्रयसों से उन्हें बचा लिया गया. बाढ़ को देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर है. रात में भी अगर कोई कॉल आ रही है, तो पूरी गंभीरता के साथ मदद की जा रही है.

ADVERTISEMENT

follow whatsapp

ADVERTISEMENT