Kannauj Chunav 2024 : महिलाओं से फंसा दी अखिलेश की सीट! वोटिंग के बाद पत्रकारों ने बताई पूरी कहानी

नीरज श्रीवास्तव

ADVERTISEMENT

Kannauj Lok Sabha Election : कन्नौज सीट से समाजवादी पार्टी (SP) के अध्यक्ष अखिलेश यादव की प्रतिष्ठा दांव पर है, उन पर खास नजर है.

social share
google news

Kannauj Lok Sabha Election : उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए चार चरण की वोटिंग हो चुकी है. 13 मई को उत्तर प्रदेश की 13 सीटों पर मतदान हुआ. चौथे चरण में समाजवादी पार्टी का गढ़ कही जाने वाली कन्नौज लोकसभा सीट पर भी मतदान हुआ. इस महत्वपूर्ण चरण में कन्नौज सीट से समाजवादी पार्टी (SP) के अध्यक्ष अखिलेश यादव की प्रतिष्ठा दांव पर है, उन पर खास नजर है. यहां सपा प्रमुख अखिलेश यादव और मौजूदा भाजपा सांसद सुब्रत पाठक के बीच कड़ी टक्कर है.

पत्रकारों ने बताया पूरा हाल

कन्नौज में रहने वाले पत्रकार कुलदीप ने बताया कि, 'मैं मतदान के दिन कन्नौज के तिर्वा विधानसभा में मौजूद रहा और वहां पूरा महौल अखिलेश के पक्ष में दिख रहा था. यहां बीजेपी का वोट बैंक सपा की ओर जाते दिख रहा था. खास बात ये रही कि ठाकुर समाज का वोट भी अखिलेश की ओर जाते दिख रहा था.' दूसरे स्थानीय पत्रकार शिवम सैनी ने बताया कि, 'इस बात मतदाता बिल्कुल साइलेंट नजर आया. पर लोग विकास के नाम पर वोट देते नजर आए.' वहीं पत्रकार आलम कुरैशी ने बताया कि, 'कन्नौज में लोगों ने खुलकर वोट किया है. इस चुनाव में चेहरा भी मायने रख रहा है. अखिलेश यादव आगे नजर आ रहे हैं.'


कन्नौज में बड़ी है लड़ाई

बता दें कि कन्नौज लोकसभा सीट से खुद समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव चुनावी मैदान में हैं. वहीं बीजेपी से सुब्रत पाठक और बसपा से इमरान बिन जफर चुनाव लड़ रहे हैं. बता दें कि अखिलेश यादव, कन्नौज सीट से 2004 और 2009 में भी इसी सीट से सांसद रहे. उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद लोकसभा से इस्तीफा देने के चलते 2012 में कन्नौज सीट पर हुए उपचुनाव में अखिलेश की पत्नी डिंपल निर्विरोध चुनी गयी थीं. वर्ष 2014 के आम चुनाव में भी डिंपल ने इसी सीट से जीत दर्ज की थी. हालांकि साल 2019 के चुनाव में वह भाजपा के सुब्रत पाठक से पराजित हो गयी थीं. 
 

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT