UP पुलिस परीक्षा के पेपर लीक के दावों के बीच हुआ ये बड़ा एक्शन, जानें क्या हुई कार्रवाई

यूपी तक

ADVERTISEMENT

उत्तर प्रदेश में 17 और 18 फरवरी को आयोजित हुई कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा को लेकर बवाल मचा हुआ है. सोशल मीडिया पर कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने का सैकड़ों दावा वायरल हो चुका है.

social share
google news

UP Constable Bharti 2024 : उत्तर प्रदेश में 17 और 18 फरवरी को आयोजित हुई कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा को लेकर बवाल मचा हुआ है. सोशल मीडिया पर कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने का सैकड़ों दावा वायरल हो चुका है. इसके अलावा समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव और कांग्रेस नेता राहुल गांधी जैसे नेता भी इस मामले को प्रमुखता से उठा चुके हैं. यूपी कॉन्स्टेबल भर्ती परीक्षा को रद्द कर नए सिरे से कराए जाने की मांग की जा रही है. इस बीच पेपर लीक होने के दावों को लेकर यूपी पुलिस ने बड़ा एक्शन लिया है. 

हुआ ये बड़ा एक्शन

बता दें कि सोशल मीडिया पर यह दावा लगातार किया जा रहा है कि इस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक हुआ था. पेपर लीक हुआ था या नहीं इसकी जांच का आदेश दे दिया गया है. मगर इस बीच पेपर लीक होने का दावा करने वाले अमरोहा के ललित पाठक नामक कोचिंग संचालक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. आरोप है कि कोचिंग संचालक ललित पेपर लीक होने की अफवाह फैलाकर माहौल खराब करने की कोशिश कर रहा था.

जांच के लिए कमेटी भी गठित 

गौरतलब है कि दर्जनों लड़कों के साथ कोचिंग संचालक ललित पाठक ने हाईवे पर प्रदर्शन किया था. इसके बाद पुलिस ने पाठक समेत 16 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया. बाद में गजरौला पुलिस ने प्रश्न पत्र लीक न होने का सबूत मिलने पर पाठक को अरेस्ट कर लिया. बता दें कि  पेपर लीक होने के दावों को लेकर यूपी पुलिस भर्ती बोर्ड ने बड़ा ऐक्शन ले लिया है. सोशल मीडिया पर पेपर लीक की खबरों की जांच के लिए भर्ती बोर्ड ने इंटरनल जांच कमेटी बैठा दी है.  

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

    Main news
    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT