UP चुनाव: औरैया जिले का सियासी हाल, 2017 में BJP ने किया था उलटफेर

UP चुनाव: औरैया जिले का सियासी हाल, 2017 में BJP ने किया था उलटफेर
बीजेपी की एक रैली की तस्वीर(फोटो: चंद्रदीप कुमार/इंडिया टुडे)

उत्तर प्रदेश के औरैया (Auraiya) जिले में महज 3 विधानसभा सीटें ही हैं. इस जिले में औरैया और बिधूना तहसीलें इटावा जिला से अलग कर शामिल की गई थीं. यह नेशनल हाईवे नंबर 2 ( मुगल रोड), इटावा मुख्यालय के 64 किमी पूर्व में और कानपुर शहर के 105 किमी पश्चिम में स्थित है.

2017 के विधानसभा चुनाव में इस जिले में पूरी तरह भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का दबदबा दिखा था. उसने औरैया जिले की तीनों सीटों पर जीत दर्ज की थी. जबकि 2012 के विधानसभा चुनाव में इस जिले की सभी सीटें समाजवादी पार्टी (एसपी) के खाते में गई थीं.

ऐसे में देखते हैं कि पिछले दो विधानसभा चुनावों में औरैया जिले की सियासी तस्वीर किस तरह बदली है:

1.दिबियापुर

2017: इस चुनाव में दिबियापुर सीट पर बीजेपी उम्मीदवार लाखन सिंह ने एसपी के प्रदीप कुमार यादव को 12094 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में यहां एसपी उम्मीदवार प्रदीप कुमार की जीत हुई थी. उन्होंने बीएसपी के रामजी को 24291 वोटों से हराया था.

2. औरैया (एससी)

2017: औरैया सीट पर भी इस चुनाव में बीजेपी की जीत हुई थी. बीजेपी उम्मीदवार रमेश चंद्र ने बीएसपी के भीमराव अंबेडकर को 31862 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में यह सीट भी एसपी के खाते में गई थी. एसपी उम्मीदवार मदन सिंह उर्फ संतोष ने बीएसपी के कुलदीप को 12062 वोटों से हराया था.

3. बिधुना

2017: बिधुना सीट पर इस चुनाव में बीजेपी के विनय शाक्य ने एसपी उम्मीदवार दिनेश कुमार वर्मा को 3910 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में यहां एसपी उम्मीदवार प्रमोद कुमार ने बीएसपी के देवेश कुमार को 18106 वोटों से हराया था.

अब यह देखना दिलचस्प होगा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में औरैया जिले में 2017 की तरह कोई बड़ा सियासी उलटफेर होगा या फिर बीजेपी एक बार फिर यहां अपना दबदबा बरकरार रखने में सफल होगी.

बीजेपी की एक रैली की तस्वीर
जब योगी आदित्यनाथ बोले- 2019 का चुनाव लगता था सबसे कठिन चैलेंज

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in