UP चुनाव: मुख्तार अंसारी के गढ़ मऊ में क्या बीजेपी की होगी वापसी?

मऊ में कुल 4 विधानसभा सीटें हैं. जिले की 3 सीटों पर बीजेपी का कब्जा है और 1 सीट पर बसपा का कब्जा है. बाहुबली मुख्तार अंसारी मऊ विधानसभा से विधायक हैं.
UP चुनाव: मुख्तार अंसारी के गढ़ मऊ में क्या बीजेपी की होगी वापसी?
2017 में यूपी विधानसभा सत्र के दौरान बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी. फोटो: मनीष अग्निहोत्री / इंडिया टुडे

घाघरा नदी (सरयू) के तट पर स्थित मऊ जिला 'पावरहाउस ऑफ टेक्सटाइल वीवर्स' के नाम से मशहूर है. मऊ को साड़ी उत्पादन, ज़री कार्य और कशीदाकारी के कामों के लिए जाना जाता है. साड़ियों को कारीगरों द्वारा उत्कृष्ट कढ़ाई तथा ज़री से सजाया जाता है. प्रदेश समेत पूरे भारत में इन साड़ियों की भारी मांग है.

मऊ में कुल 4 विधानसभा सीटें हैं. 2012 के विधानसभा चुनाव में जिले की 2 सीटों पर सपा का कब्जा था. बसपा और कौमी एकता दल के खाते में 1-1 सीट गई थी. 2017 के विधानसभा चुनाव में जिले की 3 सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की थी. वहीं, बसपा के खाते में 1 सीट गई थी. विधानसभा चुनाव 2012 से 2017 में सभी विधानसभा सीटों पर तस्वीरें कैसी बदली, आइए एक नज़र डालते हैं.

मऊ में कुल 4 विधानसभा सीटें-

  • मधुबन विधानसभा

  • घोसी विधानसभा

  • मुहम्मदाबाद गोहना विधानसभा

  • मऊ विधानसभा

मधुबन विधानसभा

2017: विधानसभा चुनाव 2017 में यह सीट बीजेपी के खाते में गई थी. बीजेपी के दारा सिंह चौहान ने 86 हजार 238 वोट पाकर कांग्रेस के अमरेश चंद को 29 हजार 415 वोटों से हराया था. बसपा के उमेश पांडेय 54 हजार 803 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

2012: विधानसभा चुनाव 2012 में इस सीट पर बसपा का कब्जा था. बसपा के उमेश पांडेय ने 51 हजार 572 वोट पाकर सपा के राजेंद्र मिश्रा को 1 हजार 356 वोटों से हराया था. कांग्रेस के उत्पल राय 26 हजार 388 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

घोसी विधानसभा

2017: विधानसभा चुनाव 2017 में यह सीट बीजेपी के खाते में गई थी. बीजेपी के फागू चौहान ने 88 हजार 298 वोट पाकर बसपा के अब्बास अंसारी को 7 हजार 3 वोटों से हराया था. सपा के सुधाकर 59 हजार 256 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

2012: विधानसभा चुनाव 2012 में इस सीट पर सपा का कब्जा था. सपा के सुधाकर ने 73 हजार 688 वोट पाकर बसपा के फागू चौहान को 15 हजार 544 वोटों से हराया था. कौमी एकता दल के मुख्तार अंसारी 44 हजार 645 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

मुहम्मदाबाद गोहना विधानसभा (SC)

2017: विधानसभा चुनाव 2017 में यह सीट बीजेपी के खाते में गई थी. बीजेपी के श्रीराम सोनकर ने 73 हजार 493 वोट पाकर बसपा के राजेंद्र कुमार को 538 वोटों से हराया था. सपा के बैजनाथ 59 हजार 871 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

2012: विधानसभा चुनाव 2012 में इस सीट पर सपा का कब्जा था. सपा के बैजनाथ ने 52 हजार 691 वोट पाकर बसपा के राजेंद्र को 3 हजार 139 वोटों से हराया था. बीजेपी के श्रीराम 28 हजार 635 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

मऊ विधानसभा

2017: विधानसभा चुनाव 2017 में यह सीट बसपा के खाते में गई थी. बसपा के मुख्तार अंसारी ने 96 हजार 793 वोट पाकर सुभासपा के महेंद्र राजभर को 8 हजार 698 वोटों से हराया था. सपा के अलताफ अंसारी 72 हजार 16 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

2012: विधानसभा चुनाव 2012 में इस सीट पर कौमी एकता दल का कब्जा था. कौमी एकता दल के मुख्तार अंसारी ने 70 हजार 210 वोट पाकर बसपा के भीम राजभर को 64 हजार 306 वोटों से हराया था. सपा के अलताफ 54 हजार 216 वोट पाकर तीसरे नंबर पर थे.

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in