UP चुनाव 2022: क्या आजमगढ़ जिले में 2012 जैसा प्रदर्शन कर पाएगी SP

UP चुनाव 2022: क्या आजमगढ़ जिले में 2012 जैसा प्रदर्शन कर पाएगी SP
आजमगढ़ में एक रैली के दौरान एसपी नेता अखिलेश यादव(फोटो: मनीष अग्निहोत्री/इंडिया टुडे)

उत्तर प्रदेश के पूर्वी जिलों में से एक आजमगढ़ में 10 विधानसभा सीटें हैं, जबकि दो लोकसभा सीटें (आजमगढ़ और लालगंज) हैं. साल 2019 के लोकसभा चुनाव में आजमगढ़ सीट पर समाजवादी पार्टी (एसपी) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) उम्मीदवार दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' को हराया था.

बात पिछले दो विधानसभा चुनावों की करें, तो 2012 के चुनाव में आजमगढ़ जिले में एसपी ने 10 में से 9 सीटों पर जीत दर्ज की थी. मगर 2017 के चुनाव में यहां सबसे ज्यादा (5) सीटें बीएसपी ने जीतीं. ऐसे में इस जिले की एक-एक सीट के हिसाब से देखते हैं कि पिछले दो विधानसभा चुनावों में वहां कैसी सियासी तस्वीर सामने आई.

1. गोपालपुर

2017: इस चुनाव में गोपालपुर सीट पर एसपी उम्मीदवार नफीस अहमद ने बीजेपी के श्रीकृष्ण पाल को 14960 वोटों से हराया था.

2012: गोपालपुर सीट इस चुनाव में भी एसपी के खाते में गई थी. एसपी उम्मीदवार वसीम अहमद ने बीएसपी उम्मीदवार कमला प्रसाद यादव को 30134 वोटों से हराया था.

2. सगड़ी (एससी)

2017: सगड़ी सीट पर इस चुनाव में बीएसपी की जीत हुई थी. बीएसपी उम्मीदवार बंदना सिंह ने एसपी के जयराम पटेल को 5475 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में सगड़ी सीट पर एसपी के अभय नारायण ने बीएसपी उम्मीदवार संतोष कुमार सिंह को 9251 वोटों से हराया था.

3. मुबारकपुर

2017: इस चुनाव में हाई प्रोफाइल मुबारकपुर सीट पर भी बीएसपी की जीत हुई थी. बीएसपी उम्मीदवार शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने एसपी नेता अखिलेश यादव को 688 वोटों के करीबी अंतर से हराया था.

2012: इस चुनाव में भी यहां बीएसपी उम्मीदवार शाह आलम ने एसपी नेता अखिलेश यादव को हराया था. दोनों उम्मीदवारों को मिले वोटों का अंतर 8566 था.

4. आजमगढ़

2017: आजमगढ़ सीट इस चुनाव में एसपी के खाते में गई थी. एसपी उम्मीदवार दुर्गा प्रसाद ने बीजेपी के अखिलेश को 26262 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में भी यहां एसपी की जीत हुई थी. एसपी उम्मीदवार दुर्गा प्रसाद यादव ने बीएसपी उम्मीदवार सर्वेश सिंह सीपू को 31441 वोटों से हराया था.

5. मेहनगर (एससी)

2017: मेहनगर सीट पर इस चुनाव में एसपी उम्मीदवार कल्पनाथ पासवान ने एसबीएसपी उम्मीदवार मंजू सरोज को हराया था. दोनों उम्मीदवारों को मिले वोटों का अंतर 5412 था.

2012: इस चुनाव में भी यहां एसपी की जीत हुई थी. एसपी उम्मीदवार बृजलाल सोनकर ने बीएसपी उम्मीदवार विद्या चौधरी को 10362 वोटों से हराया था.

6. अतरौलिया

2017: अतरौलिया सीट पर इस चुनाव में एसपी उम्मीदवार संग्राम यादव ने बीजेपी उम्मीदवार कन्हैया लाल निषाद को 2467 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में भी यहां एसपी उम्मीदवार संग्राम यादव की जीत हुई थी. उन्होंने बीएसपी के सुरेंद्र प्रसाद मिश्र को 43620 वोटों से हराया था.

7. निजामाबाद

2017: इस सीट पर एसपी उम्मीदवार आलमबादी ने बीएसपी के चंद्र देव राम को 18529 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में भी यहां एसपी के आलमबादी की जीत हुई थी. उन्होंने बीएसपी उम्मीदवार कलामुद्दीन खान को 23843 वोटों से हराया था.

8. फूलपुर-पवई

2017: इस चुनाव में यहां बीजेपी उम्मीदवार अरुण कुमार यादव ने बीएसपी के अबुल कैस आजमी को 7295 वोटों से हराया था.

2012: फूलपुर-पवई सीट पर इस चुनाव में एसपी उम्मीदवार श्याम बहादुर सिंह यादव ने बीएसपी के अबुल कैस आजमी को 865 वोटों से हराया था.

9. दीदारगंज

2017: दीदारगंज सीट पर इस चुनाव में बीएसपी की जीत हुई थी. बीएसपी उम्मीदवार सुखदेव राजभर ने एसपी उम्मीदवार आदिल शेख को 3645 वोटों से हराया था.

2012: इस चुनाव में यहां एसपी उम्मीदवार आदिल शेख ने बीएसपी के सुखदेव राजभर को 2227 वोटों से हराया था.

10. लालगंज (एससी)

2017: इस चुनाव में यहां भी बीएसपी की जीत हुई थी. बीएसपी उम्मीदवार आजाद अरिमर्दन ने बीजेपी उम्मीदवार दरोगा प्रसाद सरोज को 2227 वोटों से हराया था.

2012: लालगंज सीट पर इस चुनाव में एसपी उम्मीदवार बेचई ने बीएसपी के हीरा लाल गौतम को हराया था. दोनों उम्मीदवारों को मिले वोटों का अंतर 11012 था.

2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में यह देखना दिलचस्प होगा कि आजमगढ़ जिले में अखिलेश यादव की अगुवाई वाली एसपी 2012 जैसा प्रदर्शन कर पाएगी या फिर बाजी किसी और पार्टी के पक्ष में जाएगी.

आजमगढ़ में एक रैली के दौरान एसपी नेता अखिलेश यादव
अखिलेश यादव का नाम टीपू कैसे पड़ा, कैसे हुई राजनीति में एंट्री

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in