रामदेव-राज ठाकरे को घेरा, योगी सरकार को भी नहीं छोड़ा! बृजभूषण का विवादों से पुराना नाता

UP News: यौन उत्पीड़न, जान से मारने की धमकी समेत अन्य आरोप संगीन आरोप किसी बड़े अपराधी पर नहीं बल्कि रेसलिंग फेडरेशन के अध्यक्ष और यूपी से बीजेपी के सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर लग रहे हैं. आरोप लगाने वाले अंतरराष्ट्रीय स्तर के रेसलर्स हैं. इनमें विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया और साक्षी मलिक समेत अन्य नाम शामिल हैं. बता दें कि यह पहला मौका नहीं है, जब बृजभूषण सिंह किसी विवादों में घिरे हों.

अहम बिंदु

कौन हैं बृजभूषण शरण सिंह

  • बृजभूषण शरण सिंह 2011 से भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष हैं

  • फरवरी 2019 में वो लगातार तीसरी बार कुश्ती संघ के अध्यक्ष चुने गए थे.

  • बृजभूषण शरण सिंह गोंडा जिले की कैसरगंज सीट से भाजपा के सांसद भी हैं

  • बृजभूषण सिंह लगातार 6 बार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं

  • वो अपने बड़बोलेपन के चलते अकसर विवादों में रहे हैं.

याद कीजिए इसी साल अक्टूबर महीने में अपने इलाके में बाढ़ राहत कार्यों पर सवाल खड़े करते हुए बृजभूषण अपनी ही सरकार पर बरसे थे.

इससे पहले पिछले साल मई में बृजभूषण सिंह ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे के अयोध्या दौरे के खिलाफ मोर्चा खोला था और कई दिन सुर्खियों में रहे थे.

वहीं, पिछले दिनों बृजभूषण सिंह ने योग गुरु बाबा रामदेव को निशाने पर लिया था. उन्होंने आरोप लगाया था कि बाबा रामदेव गोंडा की धरती पर जन्म लेने वाले महर्षि के नाम पर अरबों खरबों का व्यापार कर रहे हैं, मसाले से लेकर अंडरवियर और बनियान तक बेच रहे हैं.

वैसे गौर करने वाली बात ये भी है कि बृजभूषण सिंह ने रेसलर्स के आरोपो पर जवाब देते हुए कहा है कि इस विवाद के पीछे एक व्यापारी है. खैर, दिल्ली की कड़कड़ाती सर्दी में जंतर-मंतर में धरने पर बैठे विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया और साक्षी मलिक जैसे अंतरराष्ट्रीय रेस्लरों का कहना है कि बृजभूषण सिंह को हटाए जाने तक वो किसी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में हिस्सा नहीं लेंगे और धरना जारी रखेंगे. यानी ये विवाद जल्द खत्म होता नहीं दिखता.

खबर की अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए ऊपर शेयर किए गए वीडियो को देखें

रेसलिंग फेडरेशन के अध्यक्ष और यूपी से बीजेपी के सांसद बृजभूषण शरण सिंह.
आगरा: बृजभूषण पर लगे आरोपों पर BJP सांसद राज्यवर्धन राठौर ने कही ये बात, जानें क्या कहा

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in