फतेहपुर: नौकरी के नाम पर वाराणसी से बुलाकर कराने लगे धर्म परिवर्तन, युवक ने बताई आपबीती

फतेहपुर: नौकरी के नाम पर वाराणसी से बुलाकर कराने लगे धर्म परिवर्तन, युवक ने बताई आपबीती
पुलिस हिरासत में आरोपी. फोटो: नितेश श्रीवास्तव, यूपी तक

यूपी के फतेहपुर जिले में नौकरी का झांसा देकर बंधक बनाकर धर्मान्तरण कराये जाने का मामला सामने आया है. एक युवक जैसे-तैसे वहां से जान बचाकर भाग निकला और इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस ने इस मामले में मौलवी सहित सात लोगों के खिलाफ धर्म परिवर्तन का मुकदमा दर्ज करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई में जुट गई है.

अहम बिंदु

वाराणसी के रहने वाले युवक को प्राइवेट कंपनी में नौकरी दिलाने का झांसा देकर आरोपियों ने फतेहपुर बुलाया. फिर उसे बंधक बना लिया गया. युवक पर धर्मान्तरण का दबाव बनाया जाने लगा. जिसके बाद वह किसी तरह जान बचाकर वहां से भाग निकला और इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी पुलिस को दे दी.

दरअसल बनारस जिले का रहने वाला सुधांशु चौहान की नौकरी को लेकर गाजीपुर जिले का रहने वाले अरमान अली से बात हुई थी. अरमान ने नौकरी लगवाने की बात कहकर उसे फतेहपुर आने की को कहा. जब युवक फतेहपुर पहुंचा तो अरमान द्वारा उसे अनजान स्थान पर ले जाया गया और दूसरे दिन सुबह उसे लखनऊ बाईपास स्थित एक ऑफिसनुमा घर में ले जाया गया. पीड़ित से रजिस्ट्रेशन के नाम पर एक हजार रुपया ले लिया गया.

सुधांशु से कहा गया कि वो अपने घर वालों से बात कर रहने और खाने के लिए दस हजार रुपए मंगवा ले. जिसके बाद पीड़ित ने घर वालों को फोन कर पैसा मंगवा लिया. 17 जून को उसे 20 हिन्दू लड़को व 30 - 40 मुस्लिम युवकों के साथ मदरसे ले जाया गया. मदरसे में ले जाने के बाद कहा गया- 'आपलोग हमलोगों के हिसाब से चलोगे तो महीने में एक दो लाख रुपए कमा सकते हो और जो लोग इस संगठन में जुड़े हैं वो महीने में बहुत पैसा कमा रहे हैं.'

मुस्लिम धर्म अपनाने का बनाया गया दबाव

पुलिस के मुताबिक सुधांशु ने बताया कि 19 जून को उसे और 50 हिन्दू लड़कों को 100 मुस्लिम लड़कों के साथ मस्जिद ले जाया गया. यहां मुस्लिम धर्म अपनाने का दबाव बनाया गया. इसका प्रचार-प्रसार करने को कहा गया. ऐसा करने के एवज में लाखों रुपए व मकान देने का प्रलोभन भी दिया गया. जिससे पीड़ित युवक भयभीत हो गया और इस बात का विरोध करने लगा. तब उसे बंधक बना लिया गया.

मस्जिद से भागकर थाने पहुंचा पीड़ित

मस्जिद में धर्म परिवर्तन कराने के लिए एक मौलवी भी मौजूद थे. पीड़ित युवक मौके की तलाश में था. किसी तरह वहां से भाग निकला और इस पूरे घटनाक्रम की सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने मामले में शामिल चार नामजद फतेहगढ़ निवासी मोहसिन, यासीन, मकान मालिक आलिम, कंपनी के हेड एकलाक व तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ धर्म परिवर्तन अधिनियम की धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई की जा रही है.

बनारस जिला निवासी पीड़ित सुधांशु चौहान ने थाने में तहरीर दी है कि उसे नौकरी का झांसा देकर बनारस से फतेहपुर बुलाया गया जहां उसे बंधक बना लिया गया. उसपर धर्म परिवर्तन किये जाने का दबाव बनाया जाने लगा. जिसके बाद पीड़ित किसी तरह जान बचाकर निकल गया. ये पूरी जानकारी पुलिस को दी. जिसके बाद पुलिस ने आईपीसी 365, आईपीसी 342, आईपीसी 420, धर्म सपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम के तहत आईपीसी 3 व 5 (1) के तहत मुकदमा दर्ज करते हुए फतेहगढ़ निवासी मोहसिन, यासीन, मकान मालिक आलिम को गिरफ्तार कर जेल भेजते हुए आगे की कार्रवाई की जा रही है.

एसपी, राजेश कुमार सिंह

UP Tak को दीजिए सुझाव और पाइए आकर्षक इनाम

दर्शकों से मिले बेशुमार प्यार की ताकत ही है कि इंडिया टुडे ग्रुप के Tak परिवार के सदस्य यूपी तक ने YouTube पर 60 लाख सबस्क्रिप्शन का आंकड़ा पार कर लिया है. हमें और बेहतर बनने के लिए सिर्फ 60 शब्दों में आपके बेशकीमती सुझावों की जरूरत है. सुझाव देने वाले चुनिंदा लोगों को हमारी तरफ से आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे. यहां नीचे शेयर की गई खबर पर क्लिक कर बताए गए तरीके से अपने सुझाव हमें भेजें और इनाम पाएं.

पुलिस हिरासत में आरोपी.
YouTube पर UP Tak परिवार 60 लाख पार, हम और बेहतर कैसे बनें? 60 शब्दों में बताइए, इनाम पाइए
पुलिस हिरासत में आरोपी.
कानपुर: 16 साल के लड़के का धर्म परिवर्तन कर कराया गया 2 बच्चों की मां से निकाह? जानें मामला

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in