बाराबंकी: तहसील दिवस पर कानूनगो के मुंशी ने खुद को लगाई आग, तहसीलदार पर लगाये गंभीर आरोप

बाराबंकी: तहसील दिवस पर कानूनगो के मुंशी ने खुद को लगाई आग, तहसीलदार पर लगाये गंभीर आरोप
फोटो - सैयद मुस्तफा, यूपी तक

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी से एक हैरानकर देने वाली घटना सामने आई है. बाराबंकी के तहसील हैदरगढ़ में आयोजित तहसील दिवस में उस समय हड़कंप मच गया जब कानूनगो के निजी मुंशी ने खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा ली. मुंशी ने तहसीलदार पर ऑफिस में बुलाकर गाली गलौज करने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है. बता दें कि मुंशी की हालत गंभीर है और उन्हें लखनऊ रेफर किया गया है.

अहम बिंदु

बता दें कि तहसील हैदरगढ़ में सीडीओ एकता सिंह की अध्यक्षता में आयोजित तहसील दिवस में एक कानूनगो के मुंशी सुरजीत सिंह ने तहसीलदार शशी कुमार त्रिपाठी पर प्रताड़ना का गंभीर आरोप लगाए हैं.

तहसीलदार शशी कुमार त्रिपाठी पर प्रताड़ना का गंभीर आरोप लगाते हुए मुंशी सुरजीत सिंह ने एसडीएम कार्यालय के सामने खुद को आग के हवाले कर दिया. सबसे बड़ी बात तो यह रही की घटना के समय तहसील दिवस में पर्याप्त सुरक्षा के अधिकारी, कर्मचारी मौजूद थे फिर भी मुंशी ने सभी के समक्ष एसडीएम कार्यालय के सामने ही खुद को आग के हवाले झोंक दिया. आनन फानन में सीडीओ बाराबंकी एकता सिंह व एसडीएम हैदरगढ़ सुमित महाजन राजेश व कोतवाल हैदरगढ़ द्वारा मुंशी को सीएचसी हैदरगढ़ ले जाया गया. जहां से डाक्टरों ने गंभीर हालत को देखते हुए लखनऊ रेफर कर दिया है.

मुंशी सुरजीत सिंह उर्फ लाल डींगा सिंह ने आरोप लगाया कि तहसीलदार शशि कुमार त्रिपाठी ने अपने ऑफिस बुलाकर उन्हें गालियां दीं. इस घटना पर बाराबंकी के अपर जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह ने कहा कि सुजीत सिंह को स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया और वहां से रेफर कराकर लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सुरजीत सिंह का इलाज कराया जा रहा है. उनके आरोपों की जांच भी कराई जाएगी.

बाराबंकी: तहसील दिवस पर कानूनगो के मुंशी ने खुद को लगाई आग, तहसीलदार पर लगाये गंभीर आरोप
बिकरू कांड की आरोपी खुशी दुबे 30 महीने बाद जेल से रिहा, बेटी को देखकर रो पड़ी मां

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in