हापुड़ के OYO होटल में फंदे पर लटकी मिली व्यक्ति लाश, छानबीन मे जुटी पुलिस

सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो फोटो: अमित तिवारी, यूपी तक

उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ के थाना सिंभावली क्षेत्र के बक्सर स्थित ओयो होटल सफारी में एक 43 वर्षीय व्यक्ति का शव होटल के कमरे में पंखे से लटका मिला. घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंची और शव को पंखे से उतारकर उसकी तलाशी ली गई. उसकी पहचान जनपद हापुड़ के ही गढ़मुक्तेश्वर क्षेत्र के मोहल्ला घोसियांन के रहने वाले राशन डीलर अशोक के रूप में हुई. इसकी सूचना मृतक व्यक्ति के परिजनों को दी गई. घटना की सूचना मिलने के बाद मृतक के परिजन होटल पहुंचे और शव को देखते ही उनका बुरा हाल हो गया.

अहम बिंदु

बता दें कि मृतक ने एक ऑडियो क्लिप बनाकर सोशल मीडिया पर भी अपलोड किया है, जिसमें उसके द्वारा आत्महत्या करने की बात करने के साथ-साथ 3 लोगों पर लगभग 30 लाख रुपए की ठगी का आरोप लगाया गया है.

जानकारी के मुताबिक मृतक अशोक ने अपने व् कुछ रिश्तेदारों के लगभग 30 लाख रुपए कुछ लोगों को व्यापार में लगाने के लिए दिए थे. जिसमें कहा गया था इनके पैसे वो डबल करके वापस लौटा देंगे. लेकिन काफी समय बीतने के बाद जब इसने आरोपी तीनों लोगों से अपने पैसों की मांग की तो उन्होंने उसके परिवार को जान से मारने की धमकी देने लगे. वहीं दूसरी तरफ जो रिश्तेदारों ने भी अशोक से अपने पैसे वापस करने की मांग करने लगे. इन सबसे परेशान होकर अशोक ने कल सिंभावली थाना क्षेत्र अंतर्गत बक्सर स्थित ओयो होटल में एक कमरा बुक कराया. कमरे में जाने के बाद जब वह अगले दिन सुबह तक वह बाहर नहीं निकला तो होटल के कर्मचारियों को कुछ अनहोनी होने की आशंका हुई.

कर्मचारियों ने अशोक के कमरे के आगे काफी देर तक आवाज लगाई लेकिन दरवाजा अंदर से नहीं खुला. जिसके बाद होटल के कर्मचारियों द्वारा पुलिस को इसकी सूचना दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरीके से दरवाजा खोला और अंदर जाकर देखा तो वह व्यक्ति पंखे से लटका हुआ था. घटना के बाद मौके पर पहुंचे मृतक के बेटे ने रोते हुए आरोप लगाया कि 3 लोग मेरे पिताजी को काफी दिनों से अपने पैसे मांगने पर धमकी दे रहे थे. मेरे पिताजी की मौत के जिम्मेदार यह तीनों ही व्यक्ति हैं. इनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए और मेरे पिता को इंसाफ मिलना चाहिए.

सांकेतिक फोटो
कंट्रोल रूम से पहली बार होगी यूपी बोर्ड की परीक्षाओं की निगरानी, अपर सचिव ने लिखा पत्र

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in