window.googletag = window.googletag || { cmd: [] }; let pathArray = window.location.pathname.split('/'); function getCookieData(name) { var nameEQ = name + '='; var ca = document.cookie.split(';'); for (var i = 0; i < ca.length; i++) { var c = ca[i]; while (c.charAt(0) == ' ') c = c.substring(1, c.length); if (c.indexOf(nameEQ) == 0) return c.substring(nameEQ.length, c.length); } return null; } googletag.cmd.push(function() { if (window.screen.width >= 900) { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-1').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_728x90', [728, 90], 'div-gpt-ad-1702014298509-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Desktop_HP_MTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1702014298509-3').addService(googletag.pubads()); } else { googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_ATF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-0').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-1_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-2').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-2_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-3').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_MTF-3_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-4').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_BTF_300x250', [300, 250], 'div-gpt-ad-1659075693691-5').addService(googletag.pubads()); googletag.defineSlot('/1007232/UP_tak_Mobile_HP_Bottom_320x50', [320, 50], 'div-gpt-ad-1659075693691-6').addService(googletag.pubads()); } googletag.pubads().enableSingleRequest(); googletag.enableServices(); if (window.screen.width >= 900) { googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-1'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1702014298509-3'); } else { googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-0'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-2'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-3'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-4'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-5'); googletag.display('div-gpt-ad-1659075693691-6'); } });

चौथे चरण सहित अबतक 231 सीटों के लिए हुआ मतदान, एक्सपर्ट्स से समझिए वोटिंग के मायने

यूपी तक

ADVERTISEMENT

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के चौथे चरण के लिए बुधवार को वोटिंग हुई. चौथे चरण में प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित कुल 9 जिलों…

social share
google news

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के चौथे चरण के लिए बुधवार को वोटिंग हुई. चौथे चरण में प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित कुल 9 जिलों की 59 विधानसभा सीटों पर मतदान हुआ.

2017 के चुनावों की बात करें तो बीजेपी ने 59 में से 51 सीटों पर जीत हासिल की थी, जबकि एक सीट उसके सहयोगी अपना दल (एस) के खाते में गई थी. समाजवादी पार्टी ने 4 सीटें जीती थीं. वहीं, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी को दो-दो सीट पर जीत हासिल हुई थी.

गौरतलब है कि चौथे चरण सहित अब तक 231 सीटों पर मतदान हो चुका है.

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

वोटिंग समाप्त होने के बाद यूपी तक ने अपने खास डिबेट कार्यक्रम कौन जीत रहा है यूपी? में एक्सपर्ट्स की मदद से बुधवार को हुई चौथे फेज की वोटिंग के मायने समझने की कोशिश की.

लखनऊ, उन्नाव जैसे इलाकों को इस फेज में कवर करने वाले वरिष्ठ पत्रकार हिंमाशु मिश्रा ने कहा, “योजनाओं के लाभार्थी बीजेपी के लिए बड़ा सपोर्ट है, लेकिन बहुत से शिक्षित लोगों का कहना है कि फ्री राशन स्कीम 31 मार्च तक है. ये लाइफ टाइम चलने वाली योजना नहीं है. गांवों में राष्ट्रवाद के नाम पर लोग मोदी-योगी को पसंद कर रहे हैं.”

उन्होंने आगे कहा, “महिलाएं कानून व्यवस्था को बड़ा मुद्दा मानकर वोट डाल रही हैं, लेकिन उन्नाव में थोड़ा इसके विपरीत स्थिति देखने को मिली. एसपी के पूर्व मंत्री के आश्रम से दलित लड़की का शव मिलने की घटना ने पिछले 4 दिनों में कुछ चीजें बदल दी हैं. इस घटना के बाद से दलित मतदाताओं में विभाजन देखने को मिल रहा है. कहीं न कहीं कुछ दलित वोटर्स बीजेपी की तरफ शिफ्ट कर गए हैं.”

डिबेट में शामिल हमारे दूसरे वरिष्ठ सहयोगी कुमार अभिषेक खुद इस चरण की सबसे हॉट सीटों से से एक सरोजनी नगर विधासभा क्षेत्र में ग्राउंड पर मौजूद थे. उन्होंने कहा, “यहां योगी सरकार में मंत्री स्वाति सिंह का टिकट काटकर राजेश्वर सिंह को दिया गया. यहां एसपी के टिकट पर अभिषेक मिश्रा चुनाव लड़ रहे हैं. यहां बाह्मण बीजेपी को एक मुश्त वोट देते नहीं दिख रहे हैं. वैसे ही लखनऊ मध्य में बीजेपी की कोई लहर नहीं दिखी. यहां अल्पसंख्यकों ने बीजेपी के खिलाफ वोटिंग की होगी. यही हाल लखनऊ पूर्व सीट का भी है.”

ADVERTISEMENT

डिबेट में शामिल रहे वरिष्ठ पत्रकार शरत प्रधान ने कहा, “बीजेपी के महिला सुरक्षा अभियान को वही लोग यकीन कर सकते हैं जो उससे काफी प्रेरित हैं. बीजेपी लॉ एंड ऑर्डर के मामले में कमजोर है, इसलिए वो कहती रहती है कि एसपी के सत्ता में आने पर गुंडा राज आ जाएगा.”

चौथे चरण के दौरान तराई बेल्ट के क्षेत्रों को कवर करने वाले हमारे सहयोगी पत्रकार कुमार कुणाल से हमने जमीनी हकीकत को समझना चाहा. कुमार कुणाल ने कहा, “लखीमपुर खीरी, पीलीभीत और कुछ जगहों पर बातचीत तो मैंने जाना कि कुछ मुद्दे हैं जो बीजेपी के पक्ष में दिख रहे हैं तो कुछ एसपी के पक्ष में. ये बिल्कुल बाई पोलर चुनाव है. बीएसपी या कांग्रेस कुछ वोट ले रही हो या किसी का खेल खराब कर रही हो, लेकिन ये ऐसा चुनाव नहीं है कि जहां इन दो (बीजेपी-एसपी) पार्टियों के अलावा जीतने के समीकरण किसी और पार्टी में नहीं दिखाई पड़ रहे हैं. यही बात चौथे फेज में भी साबित होती नजर आ रही है.”

उन्होंने कहा, “दोनों पार्टियों के गठबंधन (बीजेपी और एसपी) के पक्ष या विरोध में लोग मुखर होकर बोलते हैं. इस बार ऐसा चुनाव नहीं है कि हम कह दें कि साइलेंट वोटर हैं, बहुत चुप होकर कोई वोटिंग कर रहा है, मौका मिले तो वो दिल खोलकर बता देंगे कि उन्होंने किसे वोट किया है.”

कुणाल ने आगे कहा, “आवारा पशुओं का मुद्दा अभी तक दबा हुआ था, यह बात खुलकर सामने नहीं आई थी, हम जहां भी जाते थे इसकी शिकायतें सामने आती थीं. चौथे फेज में लोग इस मुद्दे पर खुलकर बात करने लगे हैं. बीजेपी के संदर्भ में देखें तो इस नुकसान की भरपाई गरीबों को मिल रहे फ्री राशन हो रही है. छुट्टा पशुओं का मुद्दा सरकार के खिलाफ है तो फ्री राशन योजना सरकार के पक्ष में है.”

(इस पूरी डिबेट को ऊपर शेयर किए गए वीडियो पर क्लिक कर देखा और सुना जा सकता है.)

    follow whatsapp

    ADVERTISEMENT