श्रृंगार गौरी विवाद: 7 मई को भी होगा सर्वे, मंदिर-मस्जिद दोनों पक्षों ने लगाए नए आरोप

श्रृंगार गौरी विवाद: 7 मई को भी होगा सर्वे, मंदिर-मस्जिद दोनों पक्षों ने लगाए नए आरोप
मुस्लिम पक्ष के वकील अभय यादव और हिंदू पक्ष के अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन.फोटो कोलाज: यूपी तक

वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में आज की सर्वे और वीडियोग्राफी की कार्रवाई खत्म हो गई है. शनिवार, 7 मई को एक बार फिर दोपहर 3 बजे से सर्वे और वीडियोग्राफी की कार्रवाई शुरू होगी.

बता दें कि कोर्ट कमिश्नर के साथ हिंदू और मुस्लिम पक्ष के वादी और वकील ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में सर्वे के लिए अंदर गए थे. इस दौरान दोनों पक्षों की ओर से बाहर धार्मिक नारे लगाते हुए जमकर नारेबाजी हुई थी.

हिंदू पक्ष के वकील विष्णु शंकर जैन ने बताया, "मुस्लिम पक्ष के लोगों ने एक घंटे तक अंदर कमीशन की कार्रवाई को प्रभावित किया, जिसकी वजह से मस्जिद की बैरिकेडिंग के अंदर सर्वे की कार्रवाई नहीं हो पाई."

अहम बिंदु

उन्होंने बताया कि कल (शनिवार) दोपहर 3 बजे के बाद फिर से सर्वे की कार्रवाई की जाएगी और मस्जिद के अंदर फिर से जाने की कोशिश होगी.

वहीं ज्ञानवापी मस्जिद की संस्था अंजुमन इंतजामिया मसाजिद की तरफ से अधिवक्ता अभय यादव ने कोर्ट कमिश्नर अजय कुमार मिश्रा पर गंभीर आरोप लगाया है. उन्होंने अजय कुमार मिश्रा पर हिंदू पक्ष के लिए कार्य करने का आरोप लगाया है.

अभय यादव के मुताबिक, वीडियोग्राफी के दौरान मस्जिद परिसर में घुसने का प्रयास हुआ. वीडियोग्राफी के दौरान मस्जिद का दिवाल खरोंचा गया. उन्होंने कहा कि आज सिर्फ मस्जिद के बाहर वीडियोग्राफी हुआ है.

बता दें कि शुक्रवार को पहली बार श्रृंगार गौरी और कई विग्रह के सर्वे के लिए बाबा विश्वनाथ धाम और ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में एक टीम पहुंची. इस टीम में कोर्ट कमिश्नर के साथ हिंदू और मुस्लिम पक्ष के वादी और वकील शामिल थे. जब यह टीम ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में सर्वे के लिए पहुंची तो वहां मौजूद लोगों ने जमकर नारेबाजी की. जिस कारण इस टीम को अंदर जाने में काफी मुश्किल हुई.

मुस्लिम पक्ष के वकील अभय यादव और हिंदू पक्ष के अधिवक्ता विष्णु शंकर जैन.
श्रृंगार गौरी विवाद: सर्वे के लिए पहुंची टीम, दोनों समुदायों की तरफ से लगे धार्मिक नारे

संबंधित खबरें

No stories found.