UP: 10वीं कक्षा से नीचे के गरीब बच्चों की स्कॉलरशिप में इजाफा, अब मिलेंग इतने रुपए

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीरफोटो - शैलेन्द्र प्रताप सिंह

उत्तर प्रदेश में कक्षा 10 के नीचे के पढ़ रहे छात्रों को राज्य सरकार द्वारा दी जा रही वजीफे की राशि ही अभी दी जाएगी. केंद्र की द्वारा दी जाने वाली स्कॉलरशिप अभी स्टेट में नहीं पहुंची है. इस वजह से यह फैसला लिया गया है कि अनुसूचित जाति, जनजाति, घुमंतू व अनुसूचित जाति अल्पसंख्यक और अन्य पिछड़े वर्ग के इन गरीबों बच्चों को अगले वर्ष से चार हजार सालाना दर से वजीफा मिलेगा.

अहम बिंदु

फिलहाल, अन्य पिछड़ा वर्ग के ऐसे बच्चों को ₹2250, अनुसुचित जाति व सामान्य वर्ग के गरीब बच्चों को 3 हजार की दर से वजीफा मिल रहा है. जो राज्य सरकार द्वारा दिया जा रहा है.

हालांकि, केंद्र सरकार द्वारा दिया जाने वाला वजीफा अभी छात्रों को नहीं मिलेगा. केंद्र सरकार द्वारा प्राइम मिनिस्टर यंग अचीवर्स स्कॉलरशिप स्कीम शुरू की गई है. जिस स्कॉलरशिप की राशि अभी तक राज्य सरकार के पास नहीं पहुंची है. इसलिए केंद्र द्वारा वजीफा अभी छात्रों को इस सत्र से नहीं मिल पाएगा. अगले शैक्षणिक सत्र से बच्चों को केंद्र सरकार द्वारा लागू वजीफा भी दिया जाएगा, जिसकी राशि तकरीबन 4000 रुपए होगी.

पिछड़ा वर्ग कल्याण राज्य मंत्री नरेंद्र कश्यप के मुताबिक, वर्ष 2021और 22 में 23 लाख बच्चों को स्कॉलरशिप दी जा रही है. केंद्र का अंशदान न मिल पाने की वजह से छात्र को अभी स्टेट गेवरमेंट द्वारा दी जा रही है, जोकि 2250 रुपए है. तकरीबन 40 लाख बच्चे है जिनमे से 35 लाख बच्चों को यह राशि हम उपलब्ध करवाएंगे. बाकी बचे जिन लोगो को नहीं मिलती है उनकी जो फॉर्म भरते समय त्रुटि कर देते उनकी स्कॉलरशिप नही आ पाती है. पूर्व वर्षों की ₹2250 दी जा रही है. केंद्र की सरकार यूपी के सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों को 4000 रुपया स्कॉलरशिप दी जानी है लेकिन अभी राशि नहीं मिली है. जब राशि मिलेगी तब फिर बच्चो को देंगे. उसी राशि के इंतजार में बच्चों को लेट से स्कॉलरशिप दी जा रही है.

सांकेतिक तस्वीर
यूपी में क्यों चल रही बर्फीली हवाएं, ठंड में ये कैसी बारिश? मौसम वैज्ञानिक ने बताई वजह

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in