बृजभूषण शरण सिंह को और झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट

बृजभूषण शरण सिंह को और झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट
फोटो - अंचल श्रीवास्तव

भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह पहलवानों के निशाने पर हैं. दिल्ली के जंतर-मंतर पर देश के नामी पहलवानों ने भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है. पहलवान विनेश फोगाट (Wrestler Vinesh Phogat) ने बृजभूषण शरण सिंह पर यौन उत्पीड़न के गंभीर आरोप लगाए हैं. वहीं इन आरोपों के बीच बृजभूषण शरण सिंह गोंडा में नेशनल रेसलिंग चैंपियनशिप करा रहे हैं, जहां उन्हें एक और झटका लगा है .

अहम बिंदु

गोंडा के नंदिनी नगर स्थित कुश्ती स्टेडियम में नेशनल चैंपियनशिप खेलने गए कई खिलाड़ियों ने इस टूर्नामेंट का बायकॉट कर दिया है. हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के कई खिलाड़ी बिना मैच खेले ही वापस लौट रहे हैं.

नेशनल चैंपियनशिप से आधा दर्जन से अधिक खिलाड़ी बिना मैच खेले ही वापस जा रहे हैं. इन खिलाड़ियों का कहना है कि हम स्वेच्छा से मैच नहीं खेल रहे हैं, दिल्ली के जंतर-मंतर पर बैठे भाई-बहनों के समर्थन में बिना खेले वापस जा रहे हैं, हम पहले जंतर-मंतर पर जाएंगे, उसके बाद घर चले जाएंगे. गौरतलब है कि नंदिनी नगर में शनिवार से नेशनल चैंपियनशिप प्रतियोगिता है. इस नेशनल चैंपियनशिप में हिस्सा लेने के लिए महाराष्ट्र, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, मध्य प्रदेश समेत कई प्रदेशो खिलाड़ी पहुंचे हैं. गुरुवार को भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह भी खिलाड़ियों से मिलने पहुंचे थे.

बता दें कि भारतीय कुश्ती संघ के प्रमुख व बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर तानाशाही व यौन शोषण के आरोप लगाते हुए देश के दिग्गज पहलवान धरने पर बैठे हैं. इसमें ब्रजभूषण शरण के इस्तीफे की मांग उठाई जा रही है. पहलवान बजरंग पूनिया के नेतृत्व में बृजभूषण के खिलाफ पहलवानों ने मोर्चा खोल रखा है. टोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता बजरंग पूनिया ने कहा कि महासंघ मनमाने ढंग से चलाया जा रहा है और जब तक डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष को हटाया नहीं जाता तब तक वे किसी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में हिस्सा नहीं लेंगे.

बृजभूषण शरण सिंह को और झटका, नेशनल चैंपियनशिप का कई खिलाड़ियों ने किया बायकॉट
वाराणसी: CM योगी ने जेपी नड्डा के साथ सड़क किनारे टपरी पर ली चाय की चुस्की, लोग हुए हैरान

संबंधित खबरें

No stories found.
UPTak - UP News in Hindi (यूपी हिन्दी न्यूज़)
www.uptak.in